बहादुरी! बीच सड़क सीएसपी संचालक को लूटने से बचाया, लेकिन खुद बदमाशों की गोली का हो गया शिकार

 बहादुरी! बीच सड़क सीएसपी संचालक को लूटने से बचाया, लेकिन खुद बदमाशों की गोली का हो गया शिकार

MOTIHARI :आम तौर पर फिल्मों में ऐसा देखने को मिलता है कि बदमाश किसी को लूट रहे हैं और फिल्म का हीरो उसे बचाने के लिए उसी समय वहां पहुंच जाता है। फिर बदमाशों को पिटाई करता है। मोतिहारी जिले में यह कहानी सच में दोहराई गई है। यहां एक पैसे निकाल कर जा रहे सीएसपी संचालक से कुछ बदमाशों ने हथियार दिखाकर लूटपाट की कोशिश की। लेकिन उसी समय पास में मौजूद एक युवक वहां पहुंच गया और बदमाशों से भिड़ गया। इस दौरान वह संचालक को लूटने से बचाने में कामयाब तो हो गया,लेकिन खुद बदमाशों की गोली का शिकार हो गया। गोली लगने से घायल युवक को इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

मामला मोतिहारी शहर के कोल्हुरवा में एनएच 28 के किनारे लूट की घटना को अंजाम दिया है। लूट पाट के दौरान हो रही मारपीट में बीच बचाव करने गये एक युवक को अपराधियो ने गोली मारकर जख्मी कर दिया है। घटना कोल्हुरवा मुहल्ला के देवराहा बाबा मंदिर के समीप घटित हुई है।  मजदूरी करने के बाद घर लौटने के दौरान युवक मुकेश पटेल सड़क किनारे चाय दुकान पर खड़ा होकर चाय पी रहा था कि देखा कि एक बुजुर्ग से दो लोग बैग छीन रहे है। बुजुर्ग सड़क पर गिरा बैग को जकड़े हुए हैं। इसे देखकर मुकेश को रहा नही गया और हो रहे छीन झपट के बीच पहुंच कर बीच बचाव करने लगा। अपराधियों ने अपने को घिरता देख गोली चला दिया। गोली मुकेश के कनपटी पर लगी। घायल मुकेश का इलाज मोतिहारी के एक निजी अस्पताल में किया जा रहा है। 


मजदूरी कर परिवार को चलाने वाले मुकेश के परिजनों के सामने अब रोटी का संकट आ गया है। साथ ही मुकेश के इलाज का खर्च भी। घटना की जानकारी देते हुए जख्मी मुकेश ने बताया कि मोटरसाइकिल पर सवार बुजुर्ग को गिरकर दो युवक बैग छीन रहे थे। जिसको देख बीच बचाव करने गया। जहां एक युवक के हाथ मे पिस्टल था,जिसने कनपटी पर सटाकर गोली मार दिया। उसके गिरने पर युवक ने बैग छिनने के लिये कई राउंड फायरिंग किया और भाग निकले। जख्मी मुकेश के साहस के बदौलत सीएसपी संचालक लूटने से बच गया।

सीएसपी संचालक को मिला था सिक्योरिटी, लेकिन उस समय साथ में नहीं

 मिली जानकारी के अनुसार,देवराहा बाबा मंदिर के समीप अशोक कुमार नामक व्यक्ति बैंक ऑफ बडौदा का सीएलपी का संचालन करता है। जो देर शाम बैंक से रुपये लेकर अपने एक सहयोगी के साथ मोटरसाइकिल से जा रहे थे कि पहले से घात लगाए अपराधियो ने लूट पाट किया। अशोक कुमार के साथ लूट की आज हुई घटना के पहले दो बार और अपराधियों ने लूट पाट किया है। जिस कारण जिला पुलिस ने दो अंगरक्षक मुहैया कराया है। लेकिन आज अशोक बिना अंगरक्षक के ही बैंक से रुपये लेकर जा रहे थे कि यह घटना हुई है। जख्मी युवक को देखने पहुंचे सदर डीएसपी अरुण कुमार ने बताया कि दो अंगरक्षक देने के बाद भी सीएसपी संचालक अशोक कुमार बगैर अंगरक्षक के बैंक से रुपये लेकर जा रहे थे। इसकी जांच कराई जा रही है। साथ ही आसपास के सीसीटीवी को खंगाला जा रहा है।

Find Us on Facebook

Trending News