BREAKING NEWS : लालू प्रसाद पर सीबीआई ने कोर्ट में दाखिल किया अपना जवाब, जमानत को लेकर यह दिया तर्क कि सब हो जाएंगे चुप

BREAKING NEWS : लालू प्रसाद पर सीबीआई ने कोर्ट में दाखिल किया अपना जवाब, जमानत को लेकर यह दिया तर्क कि सब हो जाएंगे चुप

Ranchi : लंबे समय राजद सुप्रीमो (RJD Chief) लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) की जमानत याचिका (Lalu Yadav Bail) पर सुनवाई चल रही है। शुक्रवार को सुनवाई के दौरान सीबीआइ (CBI) ने अपना जवाब देने के लिए कोर्ट से समय की मांग की थी। अब सीबीआइ ने अपना जवाब कोर्ट में दाखिल कर दिया है।  सीबीआइ (CBI) का कहना है कि विशेष अदालत CBI Court Ranchi) ने लालू यादव (Lalu Yadav) को अलग-अलग धाराओं में 7-7 साल मतलब कुल 14 साल की सजा सुनाई है। ऐसे में आधी सजा काटने का मतलब सात साल की सजा पूरी करने से है। इस लिहाज से लालू प्रसाद (Lalu Prasad) को जमानत Lalu Prasad Yadav Bail) नहीं दी जा सकती।

लालू (Lalu)  की जमानत याचिका (Lalu Bail Plea) पर केंद्रीय जांच एजेंसी, सीबीआइ (CBI) की ओर दाखिल किए गए जवाब में कहा गया है कि रांची की विशेष सीबीआइ अदालत ने चारा घोटाले (Fodder Scam) के दुमका कोषागार (Dumka Treasury) से अवैध निकासी मामले में बिहार के पूर्व मुख्‍यमंत्री (Former Bihar Chief Minster) राजद अध्‍यक्ष (RJD President) लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) को एक धारा में सात साल, और दूसरी धारा में फिर से सात साल की सजा सुनाई है।इस मामले में निचली अदालत (Ranchi Court) ने अपने लिखित आदेश में यह स्पष्ट किया है कि लालू (Lalu) को दोनों सजाएं दी जानीं हैं। इसमें एक सजा पूरी होने के बाद दूसरी सजा चलाई जानी है।

सात साल सजा काटने के बाद होगी आधी सजा

 अदालत के आदेश के अनुसार लालू (Lalu) को दुमका कोषागार मामले में कुल 14 साल की सजा सुनाई गई है। ऐसे में इस केस में आधी सजा अवधि सात साल पूरी करने पर ही मानी जाएगी। लालू प्रसाद यादव की ओर से दाखिल की गई जमानत याचिका के औचित्‍य पर सवाल उठाते हुए सीबीआइ (CBI) ने अपने जवाब में कहा है कि लालू (Lalu) आखिर किस आधार पर आधी सजा पूरी करने का दावा कर हाई कोर्ट से जमानत मांग रहे हैं। गौरतलब है कि हाईकोर्ट ने शुक्रवार को लालू की जमानत को लेकर तीन दिन में जवाब देने के लिए कहा था। अब कोर्ट में जिस तरह से सीबीआइ ने अपना जवाब दाखिल किया है, लालू प्रसाद की जमानत को लेकर उनके समर्थकों का इंतजार बढ़ सकता है।

Find Us on Facebook

Trending News