गद्दी विरासत में मिल सकती है, बुद्धि नहीं, कोरोना वैक्सीन पर भाजपा ने दिया अखिलेश यादव को जवाब

गद्दी विरासत में मिल सकती है, बुद्धि नहीं, कोरोना वैक्सीन पर भाजपा ने दिया अखिलेश यादव को जवाब

पटना। कोरोना वैक्सीन को लेकर यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव घिर गए हैं। सोशल मीडिया पर हुई आलोचना के बाद अब बिहार के स्वास्थ्य मंत्री ने भी उनकी सोच पर सवाल किया है। स्वास्थ्य मंत्री ने लिखा है कि गद्दी विरासत में मिल सकती है, लेकिन बुद्धि नहीं. स्वास्थ्य मंत्री कोरोना वैक्सीन को भारत में  मिली मंजूरी को लेकर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे थे।

दरअसल, यूपी के पूर्व सीएम और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कल एक ट्विट किया था, जिसमें उन्होंने कोरोना वैक्सीन को भाजपा का वैक्सीन कहते इसे खुद लगवाने से इनकार कर दिया था। तेजस्वी ने लिखा था  हमें वैज्ञानिकों की दक्षता पर पूरा भरोसा है पर भाजपा की ताली-थाली वाली अवैज्ञानिक सोच व भाजपा सरकार की वैक्सीन लगवाने की उस चिकित्सा व्यवस्था पर भरोसा नहीं है, जो कोरोनाकाल में ठप्प-सी पड़ी रही है। हम भाजपा की राजनीतिक वैक्सीन नहीं लगवाएँगे। सपा की सरकार वैक्सीन मुफ़्त लगवाएगी। 

अपने बयान को लेकर अखिलेश यादव ट्रोलरों के निशाने पर आ गए और लोगों ने उनपर कोरोना का राजनीतिकरण करने का आरोप लगा दिया। इस सूची में अब मंगल पांडेय भी शामिल हो गए हैं, बिहार के स्वास्थ्य मंत्री ने लिखा कि जिन लोगों को कोरोना वैक्सीन में भी भाजपा, कमल या प्रधानमंत्री मोदी जी ही दिख रहे है उनके लिए इतना ही कहना चाहता हूँ की विरासत में गद्दी मिल सकती है , बुद्धि नहीं | मंगल पांडेय ने हालांकि अखिलेश यादव का नाम नहीं लिया, लेकिन जिस तरह से उन्होंने अपनी बात कही है, उससे साफ जाहिर है कि भाजपा कोरोना वैक्सीन को लेकर किसी प्रकार की राजनीति करने के पक्ष में नहीं हैं।.

बता दें कि रविवार को देश में तब खुशियां मिली, जब कोरोना से बचाव के लिए कोवैक्सीन और कोविशिल्ड के आपातकाल प्रयोग को सरकार ने मंजूरी प्रदान कर दी।

Find Us on Facebook

Trending News