दो करोड़ की रंगदारी की मांग को लेकर बिल्डर के दफ्तर पर फायरिंग, जांच में जुटी पुलिस

दो करोड़ की रंगदारी की मांग को लेकर बिल्डर के दफ्तर पर फायरिंग, जांच में जुटी पुलिस

RANCHI : रांची के बिल्डर व एक अखबार के मालिक अभय सिंह के दफ्तर पर फायरिंग की गई है. काले रंग की पल्सर बाइक से आए दो अज्ञात अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया है. इसके बाद तेजी से चिरौंदी के रास्ते फरार हो गए. बताया जा रहा है की घटना को अंजाम देने से 9 दिनों पहले बीते 6 अगस्त को व्हाट्सएप पर मैसेज भेज कर दो करोड़ की रंगदारी मांगी गयी थी. कुख्यात अपराधी सुजीत सिन्हा के नाम पर बिल्डर से रंगदारी मांगी गई थी. रंगदारी मांगने वाले ने खुद का नाम मयंक बताया था. 

मिली जानकारी के अनुसार शनिवार दिन के करीब 12:15 बजे बिल्डर अभय सिंह के कार्यालय में दो अपराधी बाइक से पहुंचे और गोडाउन वाले गेट पर बैठे गार्ड प्रकाश को टारगेट करते हुए गोली चलाई. इसके बाद मौके से फरार हो गए. गोलीबारी से गार्ड बाल-बाल बच गया. 

घटना की जानकारी मिलने के बाद मौके पर बरियातू थाना की पुलिस पहुंची. सदर डीएसपी दीपक कुमार पांडेय भी मौके पर पहुंचे थे. पुलिस आसपास के सीसीटीवी फुटेज खंगाल रही है. लेकिन अपराधियों का अब तक कोई सुराग नहीं मिल पाया है.

बीते 6 अगस्त को अभय कुमार सिंह को कॉल कर दो करोड़ की रंगदारी मांगी गई थी. रंगदारी मांगने वाले ने वर्चुअल नंबर से मैसेज किया था. जिसमें खुद को कुख्यात गैंगस्टर सुजीत सिन्हा गैंग का मयंक सिंह बताया था. रंगदारी के लिए मैसेज मिलने के बाद अभय सिंह ने बरियातू थाने में एफआइआर दर्ज कराई थी. 

रंगदारी के लिए किए गए मैसेज में कहा गया था कि रंगदारी नही मिलने और मोराबादी में पीडब्ल्यूडी के इंजीनियर समरेंद्र प्रसाद के साथ जो हुई थी वही अंजाम भुगतना होगा. वर्चुअल नंबर से मैसेज करने के बाद दो बार अपराधियों ने वाट्सएप्प कॉल भी किया था. अभय सिंह ने संबंधित कॉल रिसीव नहीं किया था. 

रांची से मोईजुद्दीन की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News