अतिक्रमण पर नहीं चल सका बुलडोजर : जहांगीरपुरी के बाद अब शाहीनबाग का मामला भी सुप्रीम कोर्ट में, कार्रवाई के विरोध में उतरी महिलाएं

अतिक्रमण पर नहीं चल सका बुलडोजर : जहांगीरपुरी के बाद अब शाहीनबाग का मामला भी सुप्रीम कोर्ट में, कार्रवाई के विरोध में उतरी महिलाएं

NEW DELHI : दिल्ली में करीब दो साल पहले नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन से देशभर में सुर्खियों में आया शाहीन बाग आज फिर चर्चा में है। इस चर्चा का कारण यहां हुआ अतिक्रमण, जिसे हटाने के लिए आज एमसीडी का बुलडोजर पहुंचा था, लेकिन इससे पहले कि अतिक्रमण पर कार्रवाई शुरू हो पाती। शाहीनबाग की महिलाएं एक बार फिर से सड़क पर विरोध के लिए उतर गई। जिसके बाद यहां हंगामा शुरू हो गया। 

गाड़ियों के सामन लेट गए लोग

एमसीडी के इस कार्रवाई के विरोध में बुलडोजरों के सामने लेट गए। कुछ महिलाएं बुलडोजर पर चढ़ गईं। वहीं, कुछ जगहों पर लोग सड़कों पर ही धरने पर बैठ गए। हंगामा बढ़ते देख पुलिस ने लोगों को वहां से हटाया। कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया गया। इसके बावजूद कार्रवाई का विरोध जारी रहा।

लोगों के विरोध और गहमागहमी के बीच दोपहर करीब 12.30 बजे MCD के बुलडोजर शाहीन बाग से वापस लौट गए। अफसरों ने कहा कि फिलहाल अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई रोक दी गई है। बुलडोजर अब वहां से वापस लौट गया है। इस दौरान भारी हंगामे के बीच MCD की तरफ से वहां सिर्फ खानापूर्ति की गई. MCD कर्मचारियों ने वहां सिर्फ एक बिल्डिंग के बाहर लगी लोहे की रॉड्स को हटवाया, जो वहां रेनोवेशन के काम के लिए लगी थी।

मुझे बताएं कहां है अतिक्रमण, मैं हटवा दूंगा

इस कार्रवाई के खिलाफ स्थानीय विधायक और आम आदमी पार्टी (आप) विधायक अमानतुल्ला खान भी मौके पर पहुंचे। AAP विधायक अमानतुल्लाह खान ने कहा कि मस्जिद के सामने एक शौचालय था, जिसे मैंने अपने पैसे से हटवाया। पूरी विधानसभा में जहां-जहां अतिक्रमण है, MCD वाले मुझे बताएं, मैं खुद हटवा दूंगा. ये यहां आकर माहौल खराब कर रहे हैं, राजनीतिकरण किया जा रहा है

सुप्रीम कोर्ट पहुंचा मामला

वहीं एमसीडी के इस कार्रवाई के विरोध में कुछ लोगों ने सुप्रीम कोर्ट का भी दरवाजा खटखटाया है। बताया जा रहा है कि इस कार्रवाई को लेकर सुप्रीम कोर्ट में आज ही सुनवाई हो सकती है और कोर्ट कोई बड़ा निर्देश जारी कर सकता है। 

पहले से थी प्लानिंग

बता दें कि, दक्षिण निगम का बुलडोजर लगातार चार मई से अवैध निर्माण और अतिक्रमण के खिलाफ गरज रहा है। अब तक तुगलकाबाद, कालिंदी कुंज मेन रोड, कालिंदी कुज मार्ग आदि से अतिक्रमण हटाया जा चुका है। निगम की योजना के मुताबिक, 9 मई को शाहीन बाग में अवैध निर्माण के खिलाफ कार्रवाई होगी।


Find Us on Facebook

Trending News