PFI की तुलना RSS करने वाले पटना एसएसपी का पुतला दहन, भाजपा की पद से हटाने की मांग

PFI की तुलना RSS करने वाले पटना एसएसपी का पुतला दहन, भाजपा की पद से हटाने की मांग

पटना. पटना एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो द्वारा पीएफआई की तुलना आरएसएस से करने से गुस्साए भाजपा कार्यकर्ताओं ने शुक्रवार को एसएसपी का पुतला दहन किया. भाजपा कार्यकर्ताओं ने एसएसपी द्वारा की गई तुलना को एक राष्ट्रवादी संगठन का अपमान बताया और उनसे माफी मांगने की मांग की. साथ ही राज्य सरकार से तत्काल ढिल्लो को पटना एसएसपी के पद से हटाने की अपील की. 

वहीं, पटना एसएसपी मानवजीत सिंह ढिल्लो द्वारा पीएफआई की तुलना आरएसएस से करने पर भाजपा आक्रामक बनी हुई है. केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने भी अब इस मामले में पटना एसएसपी को आड़े हाथों लिया है. उन्होंने राष्ट्रीय स्वयं सेवक (आरएसएस) का मतलब समझाते हुए पटना आरएसएस पर निशाना साधा. गिरिराज सिंह ने ट्विट कर पटना एसएसपी के विवादित बयान का वीडियो पोस्ट किया. उन्होंने लिखा, RSS मतलब राष्ट्र प्रेम.. RSS मतलब राष्ट्र कल्याण.. RSS मतलब देश सेवा.. RSS मतलब जनकल्याण .. RSS मतलब मानवता और सौहार्द्र.. RSS मतलब संविधान के हिमायती। देश और दुनिया का हर समझदार व्यक्ति इस बात को जानता है ,सिवाय कुछ "एजेंडावादियों और तुष्टिकरण" के पैरोकारों के ।


गिरिराज ने अपने ट्विट में एसएसपी का नाम नहीं लिया. ना ही उन्होंने पीएफआई का जिक्र किया लेकिन उन्होंने आरएसएस के कार्य, उसके उद्देश्य और सिद्धांत को लेकर लम्बा ट्विट किया. दरअसल, पटना के फुलवारीशरीफ से पीएफआई से जुड़े दो संदिग्ध आतंकियों की गिरफ्तारी के बाद पटना एसएसपी ने एक विवादित बयान किया था. उन्होंने कहा था कि जिस तरह आरएसएस की शाखा में लोगों को लाठी चलाने का प्रशिक्षण दिया जाता है उसी तरह का शारीरिक प्रशिक्षण पीएफआई के फुलवारीशरीफ केंद्र में चल रहा था. 

उनकी इस तुलना ने तूल पकड़ लिया और भाजपा उन पर आक्रामक हो गई है. इसे लेकर भाजपा के कई नेताओं ने सीएम नीतीश कुमार से एसएसपी को तत्काल पटना से हटाने की मांग की है. कुछ नेताओं ने एसएसपी से माफी मांगने की भी मांग की. हालांकि जदयू की ओर से एसएसपी का बचाव किया गया है. नीतीश सरकार में मंत्री अशोक चौधरी ने कहा कि की ऐसे लोग हैं जो आरएसएस पर सवाल करते रहे हैं लेकिन आज कई भाजपा सरकारों में मंत्री हैं. 


Find Us on Facebook

Trending News