पटना मद्य निषेध टीम को मिली बड़ी कामयाबी, बिहार में शराब की खेप सप्लाई करनेवाले कारोबारियों को असम से किया गिरफ्तार

पटना मद्य निषेध टीम को मिली बड़ी कामयाबी, बिहार में शराब की खेप सप्लाई करनेवाले कारोबारियों को असम से किया गिरफ्तार

PATNA : बिहार में शराबबंदी के बावजूद तस्करों और कारोबारियों का अवैध शराब के कारोबार का खेल लगातार जारी है। वहीँ  दूसरी तरफ बिहार मद्य निषेध विभाग की टीम शराबबंदी के कानून को सख्ती से लागू कराने में जुटी नजर आ रही है। बता दें की औरंगाबाद जिले के अम्बा थाने में बीते वर्ष 2021 को मार्च महीने में 2000 लीटर स्परिट की बरामदगी हुई थी। 


इसमें अंतर्राष्ट्रीय लिकर तस्कर और बड़े शराब कारोबारी में शुमार रखनेवाले सुनील भारद्वाज का नाम सामने आया था। इस मामले में मद्य निषेध विभाग के पटना इकाई की टीम ने कार्रवाई की है। मद्य निषेध पटना इकाई की टीम ने गुप्त सूचना के अधार पर असम के पांच सितारा होटल के कमरे से दो लोगों को गिरफ्तार किया। जिसमें सुनील भारद्वाज और फुंसो दुरजी शामिल है। 

बताया जा रहा है की पकड़ में आया तस्कर और बड़ा शराब कारोबारी सुनील भारद्वाज और फुंसो दुरजी दुबई से हाल के दिनों में आये थे। दोनों बड़े घरानो से सम्बन्ध रखते है। दुरजी फुंसो करीमी अरुणाचल प्रदेश का रहने वाला है। वही सुनील भारद्वाज यूपी के बुलंद शहर निवासी है। 

इस बाबत जानकारी देते हुए मद्य निषेध विभाग के डीएसपी अभिजीत ने बताया कि दूरजी फुंसो करीमी और सुनील भारद्वाज द्वारा बिहार में शराबबंदी होने के बावजूद लिकर सप्लाई और अवैध शराब की खेफ शराब माफियां को मुहैया करवाया जाता रहा है। जिसमें पटना सहित बिहार के करीब सभी जिलों में दर्जनों मामले का आरोपी है। फिलहाल दोनों पकड़ में आए अंतर्राष्ट्रीय कारोबारियों से पुलिस कड़ी पूछताछ कर इनसे जुड़े लिंक को खंगालने में जुट गई है।

पटना से अनिल कुमार की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News