प्रदेश के इन दो बीएड कॉलेजों की मान्यता रद्द, 10 अन्य पर गिर सकती है गाज

प्रदेश के इन दो बीएड कॉलेजों की मान्यता रद्द, 10 अन्य पर गिर सकती है गाज

PATNA : एनसीटीई के निर्देशों की अनदेखी कर मनमानी करने वाले प्रदेश के दो बीएड कॉलेजों पर सख्त कार्रवाई हुई है। मुजफ्फरपुर के डॉ. जगन्नाथ मिश्रा महाविद्यालय और समस्तीपुर के गवर्मेंट कॉलेज ऑफ टीचर्स एजुकेशन को एनसीटीई की निर्देशों की अनदेखी किए जाने के बाद इनकी मान्यता को रद्द कर दिया है। 

वहीं अन्य 10 बीएड कॉलेजों से एनसीटीई से जवाब मांगा गया है। काउंसिल ने इसके लिए इन कॉलेजों को 21 दिन का समय दिया है। 21 दिन के अंदर संतोषजनक जवाब नहीं मिलने पर इनकी भी मान्यता रद्द हो सकती है। 

बताया जा रहा है कि इन दोनों संस्थानों में शिक्षकों की बड़ी कमी पाई गई थी। जिसके बाद दोनो कॉलेजों को जल्द से जल्द शिक्षकों की कमी दूर किये जाने का नोटिस दिया गया था। 

कॉलेज प्रशासन पर यह भी आरोप है कि कई बार नोटिस के बावजूद कॉलेज ने केवल नौ शिक्षकों की ही सूची सौंपी, जबकि 16 शिक्षकों की जरूरत है। यहां बीएड की 200 सीटें हैं। 

एनसीटीई के सूत्रों के मुताबिक कॉलेज की मान्यता सत्र 2019-20 के लिए रद्द की गई है। इधर पटना वीमेंस कॉलेज के शिक्षा विभाग की मान्यता पुन: बहाल कर दी गई है। 

दरअसल एनसीटीई के पूर्वी क्षेत्रीय समिति की बैठक 30 मई से लेकर एक जून तक आयोजित की गई, जहां सभी बिंदुओं को विचार करने के बाद इन दो कॉलेजों की मान्यता रद्द करने का निर्णय लिया गया है।

Find Us on Facebook

Trending News