बिहार में बढ़े हॉनर किलिंग के मामले : बेगूसराय, भागलपुर के बाद अब वैशाली जिले में भी ऐसी ही घटना सामने आई, पैक्स अध्यक्ष निकला हत्यारा

बिहार में बढ़े हॉनर किलिंग के मामले :  बेगूसराय, भागलपुर के बाद अब वैशाली जिले में भी ऐसी ही घटना सामने आई, पैक्स अध्यक्ष निकला हत्यारा

HAJIPUR : बिहार में समाज में अपनी इज्जत बनाए रखने के लिए अपनों का ही खून करने का चलन बढ़ गया  है। बीते दो दिन में भागलपुर में एक भाई ने अपनी बहन की हत्या कर दी, क्योंकि उसने परिवार के खिलाफ प्रेम विवाह किया था। वहीं बेगूसराय में प्रेमी जोड़े की भी हत्या कर उनके शव को रेलवे ट्रैक पर फेंक दिया गया था। अब वैशाली जिले में कुछ दिन पहले हुए एक युवती की हत्या के मामले में पुलिस जांच में इस बात का खुलासा हुआ है कि उसकी हत्या की वजह प्रेम से ही जुड़ी हुई है। 

बिहार के वैशाली में बीते दिनों भगवानपुर थाना क्षेत्र के बानथू चौर से एक अज्ञात युवती का शव बरामद हुआ था. मृतका की पहचान भेलदी थाना क्षेत्र के मदारपुर गांव निवासी मनोज सिंह की बेटी सोनी कुमारी के रूप में की गई। अब सोनी की हत्या के मामले का पुलिस ने खुलासा कर लिया है. पुलिस ने शव की पहचान करते हुए तीन आरोपी को गिरफ्तार किया (Three arrested in Vaishali horror killing case) है. वहीं, एक आरोपी अबतक फरार है। 

पुलिस के मुताबिक युवती की हत्या हॉरर किलिंग में की गई है। उसकी हत्या घरवालों ने पांच लोगों के साथ मिलकर कर दी थी और शव को वैशाली के भगवानपुर थाना क्षेत्र में फेंक दिया गया था. इस मामले में पुलिस ने अब तक मदारपुर के पैक्स अध्यक्ष राजीव कुमार, लड़की की मां रंजू देवी के अलावा जिस गाड़ी से लड़की को लाया गया था, उस गाड़ी का मालिक गोलू कुमार को गिरफ्तार किया है. जबकि लड़की का पिता मनोज सिंह फरार है।

बताया जा रहा है कि सोनी कुमारी का गांव के किसी युवक के साथ प्रेम प्रसंग था, जिसमें वह दो बार लड़के के साथ भाग चुकी थी. जिससे घर के लोग परेशान थे और यही वजह है कि मां-बाप ने स्थानिए पैक्स अध्यक्ष के साथ मिलकर लड़की की हत्या की साजिश रची थी. 21 अक्टूबर की रात को लड़की को उसके परिजन अपने रिश्तेदार के यहां लेकर छपरा से भगवानपुर थाना क्षेत्र के हरपुर गांव के लिए चले थे. इसी दौरान रास्ते में सभी ने मिलकर लड़की की गला दबाकर हत्या कर दी और शव को बानथू गांव के चौर में फेंक कर फरार हो गए.

कार में गला दबाकर की हत्या: शव मिलने के बाद पुलिस मामले की जांच में जुट गई. भगवानपुर थानाध्यक्ष रामकृष्ण परमहंस के नेतृत्व में पूरे मामले की जांच कर इस जघन्य हॉरर किलिंग का पर्दाफाश किया गया. इस मामले में पुलिस ने उक्त कार को भी बरामद कर लिया है, जिससे घटना को अंजाम दिया गया था. साथ ही एक बाइक को भी जब्त किया गया है।

गिरफ्तार राजीव कुमार ने बताया कि कार में लड़की को लेकर लाया गये थे और कार में गला दबाकर उसकी हत्या करने के बाद फेंक दिया गया था. वहीं फोन लाइन पर भगवानपुर थाना अध्यक्ष परमहंस कुमार ने बताया कि वैधानिक आधार पर जांच किया गया जिसके बाद पता चला कि लड़की की हत्या उसके माता-पिता ने दो अन्य लोगों के साथ मिलकर की थी. पुलिस ने छापेमारी कर इस मामले में तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. वह लड़की के आरोपी पिता की गिरफ्तारी के लिए पुलिस छापेमारी कर रही है.

Find Us on Facebook

Trending News