जातीय जनगणनाः राजद सुप्रीमो को रास नहीं आ रही प्रधामंत्री मोदी की चुप्पी, ट्वीट कर जता दी जातिगत जनगणना की अहमियत

जातीय जनगणनाः राजद सुप्रीमो को रास नहीं आ रही प्रधामंत्री मोदी की चुप्पी, ट्वीट कर जता दी जातिगत जनगणना की अहमियत

PATNA/NEW DELHI: जाति आधारित जनगणना कराने की मांग बिहार के नेता काफी वक्त से उठा रहे हैं। इसको लेकर भले ही बिहार के प्रतिनिधिमंडल की प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात हो चुकी हो, मगर अब तक इसका कोई नतीजा निकल कर सामने नहीं आया है। इसको लेकर एक बार फिर से लालू यादव ने ट्वीट किया है और इस मुद्दे पर ध्यानाकर्षण की कोशिश की है।

अपने ट्वीट में राजद सुप्रीमो लालू यादव ने एक अखबार की खबर को कोट करते हुए एक बार फिर जाति आधारित जनगणना पर ध्यानाकर्षण की कोशिश की है अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा है कि जातीय जनगणना कोई राजनीतिक मुद्दा नहीं बल्कि राष्ट्र निर्माण की अति जरूरी पहल है सामाजिक न्याय व बंधुता का प्रश्न मनुष्यता का प्रश्न है और जातिवार जनगणना के हासिल को उसी की एक कड़ी के रूप में देखा जाना चाहिए उनके tweet एक बात तो साफ है की जाति आधारित इस मामले पर प्रधानमंत्री की तरफ से अब तक जो छुट्टी बरकरार है वह उनसे सहन नहीं हो रही है वह जल्द से जल्द इस मामले पर आर या पार का फैसला सुनना चाहते हैं 30 अगस्त को ही बिहार के प्रतिनिधिमंडल ने प्रधानमंत्री से इस मुद्दे पर मुलाकात की थी और तब से लेकर अब तक इस मुद्दे पर केंद्र सरकार की तरफ से आधिकारिक बयान नहीं आया है ना ही किसी भी तरह की बातचीत आगे की गई है इसी को लेकर उन्होंने एक बार फिर जातीय जनगणना को अति आवश्यक बताते हुए इसे जल्द से जल्द करवाने की पहल की है

विदित हो कि बिहार विधानसभा के मानसून सत्र के दौरान सत्ता पक्ष की पार्टी जदयू और विपक्ष के राजद सहित अन्य घटक दल जाति आधारित जनगणना कराने के पक्ष में थे। वहीं बीजेपी इसके विपक्ष में थी। यानी कि, बीजेपी का मानना था कि जाति आधारित जनगणना कराना जरूरी नहीं है। इसको लेकर 23 अगस्त को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में 11 सदस्य प्रतिनिधिमंडल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से दिल्ली जाकर मुलाकात की थी और जातीय जनगणना को लेकर पक्ष रखा था। मुलाकात करने के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने मीडिया से मुखातिब होकर कहा कि प्रधानमंत्री ने हमारी मांग को खारिज नहीं किया है। इस मामले पर सकारात्मक नतीजे आने की उम्मीद है।



Find Us on Facebook

Trending News