चारा घोटाला के सबसे बड़े मामले में लालू से CBI पूछेगी 22 सवाल, व्यक्तिगत रुप से उपस्थित होकर देना होगा जवाब

चारा घोटाला के सबसे बड़े मामले में लालू से CBI पूछेगी 22 सवाल, व्यक्तिगत रुप से उपस्थित होकर देना होगा जवाब

PATNA/RANCHI : चारा घोटाले में बंद लालू प्रसाद यादव के खिलाफ चारा घोटाले से जुड़े सबसे बड़े मामले कांड संख्या आरसी 47ए/97 में 26 अगस्त से सुनवाई शुरू होने वाली है। चारा घोटाले के सबसे बड़े मामले में राजद सुप्रीमो लालू यादव से करीब 22 सवाल पूछे जाएंगे। 

बताया जा रहा है कि सीबीआई उनसे जो 22 सवालों का जवाब मांगेगी वे मुख्यमंत्री काल में डोरंडा कोषागार से 139.35 करोड़ रुपए की अवैध निकासी से जुड़े होंगे। लालू प्रसाद को सभी सवालों के जवाब अदालत में व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होकर देने होंगे।

सीबीआई की विशेष अदालत शीघ्र ही लालू के बयान की तारीख निर्धारित करेगी। लालू प्रसाद चारा घोटाले के पांच मामलों में आरोपी है। चार मामलों में फैसला आ चुका है। चारों मामलों में साढ़े तीन साल से 14 साल की सजा सुनाई गई है।

चारा कांड संख्या आरसी 47ए/96 मामले में लालू प्रसाद समेत अन्य 114 आरोपियों के आरोप साबित करने के लिए सीबीआई ने कुल 575 गवाहों को प्रस्तुत किया है। इन्हीं गवाहों के गवाही के आधार पर लालू प्रसाद के भाग्य का फैसला होगा। अभियोजन साक्ष्य बंद होने के बाद अदालत आरोपियों के बयान दर्ज कर रही है।

बता दें कि डोरंडा कोषागार से लगभग 139 करोड रुपए की अवैध निकासी की गई थी। इस मामले में 119 आरोपी ट्रायल फेस कर रहे हैं। जिसमें लालू प्रसाद पूर्व सांसद आरके राणा जगदीश शर्मा जैसे कुछ प्रमुख नेताओं के नाम शामिल हैं। इसमें लालू प्रसाद और जगदीश शर्मा फिलहाल रांची के होटवार जेल में बंद हैं।

डोरंडा कोषागार से लगभग 140 करोड़ रुपए की अवैध निकासी वाले मामले कांड संख्या आरसी 4797 में सोमवार से पुन: सुनवाई शुरू हो जाएगी।

गौरतलब है किस मामले में 17 आरोपियों के बयान दर्ज किए जा चुके हैं। सोमवार से शुरु होने वाली सुनवाई में जल्द ही लालू प्रसाद समेत अन्य बड़े राजनीतिक और कई आईएएस अधिकारियों के बयान दर्ज किए जाएंगे। अनुमान लगाया जा रहा है की सबसे बड़े मामले में फैसला जल्द ही आएगा।

Find Us on Facebook

Trending News