CBSE BOARD : सीबीएसई ने 9 वीं, 10 वीं, 11 वीं, व 12 वीं की परीक्षा के प्रश्नपत्र पैटर्न में किया बड़ा बदलाव, जानिये अब कैसे पूछे जाएंगे प्रश्न

CBSE BOARD : सीबीएसई ने  9 वीं, 10 वीं, 11 वीं, व 12 वीं की परीक्षा के प्रश्नपत्र पैटर्न में किया बड़ा बदलाव, जानिये अब कैसे पूछे जाएंगे प्रश्न

New Delhi : 2021- 22 के नौवीं ,दसवीं व 12 वीं की परीक्षा के लिये केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई)के द्वारा प्रश्न पत्र पैटर्न में बदलाव कर दिया है। यह बदलाव इसी सत्र से लागू होगा। सीबीएसई बोर्ड की जानकारी के मुताबिक दसवीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा में अब लघु और दीर्घ उत्तरीय प्रश्न दस फीसदी कम पूछे जायेंगे। अभी तक दसवीं में लघु और दीर्घ उत्तरीय प्रयन 70 फीसदी पूछे जाते थे। वहीं 12वीं में 60 फीसदी लघु और दीर्घ उत्तरीय प्रश्न रहता था। इससे सम्बंधित जानकारी सीबीएसई से जुड़े तमाम स्कूलों को मुहैया करा दी गयी है।

अब क्षमता बेस्ड प्रश्न पूछे जाएंगे

बताया जा रहा है नई शिक्षा नीति 2020 के तहत दसवीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा के प्रश्न पत्र के बदलाव का निर्णय लिया गया है । यही वजह है कि अब क्षमता बेस्ड प्रश्न को जोड़ा गया है। नई शिक्षा नीति का मकसद है कि हर कीमत पर सबसे पहले विद्यार्थियों में सोचने की क्षमता का विकास हो । इसी को आधार बनाते हुए नौंवी और 11वीं के वार्षिक परीक्षा और बोर्ड परीक्षा में क्षमता बेस्ड प्रश्न पूछा जाएगा । जिसका जबाव छात्रों को देना होगा। इसमें नौंवी और दसवीं बोर्ड में 30 फीसदी और 12वीं के बोर्ड परीक्षा में 20 फीसदी क्षमता वाले प्रश्न रहेंगे। इससे पहले इस तरह से प्रश्न पूछने की परंपरा नहीं थी। यह एक प्रकार से आधारभूत बदलाव किया जा रहा है ।

जारी होगा सैंपल पेपर ताकि छात्रों को नए पैटर्न की जानकारी मिल सके

प्रश्नपत्र के नए पैटर्न की जानकारी छात्रों को मिल सके इसके लिये जल्द ही बोर्ड के द्वारा सैम्पल पेपर जारी किया जाएगा । एकेडेमिक डायरेक्टर डा. जोसफ इमैनुअल ने भी इस बात की पुष्टि कर दी है। इसी पैटर्न पर अब स्कूलों को पढ़ाने का भी निर्देश भी दिया गया है ताकि छात्रों इससे सम्बंधित  जानकारी मिल पाए और वे अपने को नए पैटर्न के अनुसार तैयार कर सकें।

नौंवी और दसवीं में के प्रश्नपत्र के पैटर्न को जानिये

क्षमता बेस्ड प्रश्न 30 फीसदी रहेगा (इसमें मल्टीपल च्वाइस, केस स्टडी,इंटीग्रेटेड आदि प्रकार के प्रश्न रहेगा)

- 20 अंक का वस्तुनिष्ठ प्रश्न रहेगा

- लघु और दीर्घ उत्तरीय प्रश्न 60 फीसदी से घटा कर अब 50 फीसदी पूछे जायेंगे

11वीं और 12वीं में

- क्षमता बेस्ड 20 फीसदी प्रश्न रहेगा (इसमें केस स्टडी, मल्टीपल च्वाइस, इंटीग्रेटेड प्रकार के प्रश्न रहेगा)

- 20 अंक का वस्तुनिष्ठ प्रश्न रहेाग

- लघु और दीर्घ उत्तरीय प्रश्न अब 70 फीसदी से घटा कर 60 फीसदी कर दिया गया है।

Find Us on Facebook

Trending News