CBSE परीक्षा में बदलाव, Exam में इस्तेमाल होगा ट्रेटा सॉफ्टवेयर, जानिए

CBSE परीक्षा में बदलाव, Exam में इस्तेमाल होगा ट्रेटा सॉफ्टवेयर, जानिए

N4N Desk: CBSE बोर्ड की परीक्षाएं 15 फरवरी से शुरू होने जा रही है. इस बार बोर्ड की ओर से पेपर लीक से लेकर नकल पर लगाम लगाने के लिए कई महत्वपूर्ण कदम लिए गए है. नए नियमों की वजह से इस बार की परीक्षा पिछले साल के मुकाबले काफी अलग है. अगर आप भी सीबीएसई परीक्षा में हिस्सा लेने जा रहे हैं तो पहले यह नियम जान लें ताकि आपको कोई दिक्कत ना हो.

इस बार बोर्ड की ओर से थ्योरी इवैल्यूएशन ट्रेंड एनलसिस (टीईटीआरए या ट्रेटा) सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल किया जाएगा. इसके माध्यम से पेपर की डिफिकल्टी की जांच की जाती है, ताकि परीक्षार्थियों को समान डिफिकल्टी वाला पेपर मिल सके.

एक रूम में 24 विद्यार्थी: मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इस बार एक कमरे में सिर्फ 24 विद्यार्थी ही परीक्षा देंगे. साथ ही उम्मीदवारों की तलाशी भी NEET आदि परीक्षाओं की तरह होगी. इसके माध्यम से नकल रोकने पर ज्यादा जोर रहेगा. 

स्कूल यूनिफॉर्म: इस बार रेगुलर छात्रों को परीक्षा केंद्र में अपनी स्कूल की यूनिफॉर्म में ही जाना होगा. बोर्ड ने स्कूलों से कहा है कि वो अपने छात्रों को यूनिफॉर्म पहनने के लिए कहा है. जो छात्र यूनिफॉर्म में नहीं जाते हैं, तो उनके लिए दिक्कत हो सकती है. 


Find Us on Facebook

Trending News