सीसीटीवी में चोरी की घटनाएं कैद होने के बावजूद पटना पुलिस की कार्रवाई सिफर, महज सात दनों में 2 करोड़ से अधिक की हुई चोरी

सीसीटीवी में चोरी की घटनाएं कैद होने के बावजूद पटना पुलिस की कार्रवाई सिफर,  महज सात दनों में 2 करोड़ से अधिक की हुई चोरी

पटना... शहर में चोरी की घटनाओं पर लगाम नहीं लगा पा रही है। शहर में शातिर बदमाश आए दिन सूने घरों को निशाना बनाकर माल समेट रहे हैं और पुलिस सिर्फ एफआईआर दर्ज कर लकीर पीट रही है। अब बदमाशों के निशाने पर सूने घरों के अलावा घर में बने किचन मंदिर भी आ गए हैं। शहर में छठ पूजा के दौरान करीब डेढ़ देर्जन घरों का ताला तोड़ करीब दो करोड़ से अधिक की संपत्ति पर चोरों ने अपना हाथ साफ कर लिया है। ये घटनाएं तो महज सात दिनों के अंदर की है। इससे पहले भी शहर में दर्जनों चोरी की वारदात हुई। जिनमें से कई के सीसीटीवी में कैद होने के बाद भी चोर नहीं पकड़े जा सके। 


सूना घर को चोरों ने बनाया निशाना 

चिंतनीय बात यह है कि अगर कोई अपना घर एक दिन के लिए भी छोड़ता है तो वह घर चोरों के निशाने पर आ जाता है। इसका उदाहरण कदमकुंआ में थाना क्षेत्र के जनक किशोर रोड स्थित रानीकुंज बिल्डिंग में निवासी सत्येंद्र शाह के घर देखने को मिला। जहां महज एक रात में चोरों ने तकरीबन 60 लाख की चोरी की घटना को अंजाम दिया। पिछले महीनें में कई ऐसी चोरी हुई, इनमें लो तत्काल में अपना काम करने के लिए ग, जब घर लौटे तो घर के ताले टूटे मिले। 

शहर के राजीव नगर, कंकड़बाग, शास्त्री नगर, दीघा, पत्रकार नगर, कदमकुंआ आदि थाना क्षेत्रों के दर्जनों मोहल्ले में पिछले दिनों चोरों के निशाने पर रहे। कहने को तो पुलिस रात भर गश्ती करती है, लेकिन लोग सवाल उठा रहे हैं कि उन्हें चोरी की आवाज क्यों नहीं सुनाई देती है। 

22 नवंबर को राजीव नगर के अभियंता नगर मोहल्लां, 23 नवंबर को पत्रकार नगर और कंकड़बाग थाना क्षेत्र और 24 नवंबर को कदमकुंआ थाना क्षेत्र में चोरों ने घरों के ताले तोड़े। इधर, सुनसान रास्तों पर लुटेरों का आतंक है, जो दिन दहाड़े लूट की घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं।

वहीं टाउन एसपी सुरेश कुमार ने कहा कि चोरों को पकड़ने के लिए तेजी लाई जा रही है। सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं। गश्ती में और भी तेजी लाई जाएगी। 


Find Us on Facebook

Trending News