ओमिक्रोन से निपटने की राज्य सरकार की तैयारियों का जायजा लेने पहुंची केंद्र की टीम, आज जिलों में कर सकती रैंडमली जांच

ओमिक्रोन से निपटने की राज्य सरकार की तैयारियों का जायजा लेने पहुंची केंद्र की टीम,  आज जिलों में कर सकती रैंडमली जांच

PATNA : बिहार में कोरोना की तीसरी लहर से मुकाबले की तैयारियों अाैर टीकाकरण व अन्य व्यवस्थाओं का जायजा लेने के आई केंद्रीय टीम ने सोमवार को स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की।   देर रात खत्म हुई है बैठक में अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य प्रत्यय अमृत के साथ सभी बड़े अधिकारी मौजूद थे। बैठक में सभी जिला के सिविल सर्जन से केंद्रीय टीम ने फीडबैक लिया है। स्वास्थ्य के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत का कहना है कि सारी तैयारियों का खाका केंद्रीय टीम को दे दिया गया है और उन्होंने तैयारियों पर अपनी संतुष्टी जाहिर की है। 

स्वास्थ्य के अपर मुख्य सचिव ने बताया कि बैठक में टीम ने बिहार में आरटीपीसीआर जांच की संख्या बढ़ाने का सुझाव दिया है। इससे पहले टीम ने राज्य में सैंपल कलेक्शन की व्यवस्था की जानकारी ली। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने ग्रामीण इलाकों में रैंडम जांच की बात कही। इस दौरान  जिलों में भी जांच की व्यवस्था होने की जानकारी उन्हें दी गई। उन्होंने कहा कि केंद्रीय भी दो तीन दिन बिहार रहेगी पटना शहर के अस्पतालों विजिट करेगी साथ ही  जिला का दौरा भी करेगी। केंद्रीय टीम ने कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की व्यवस्था की जानकारी भी ली है। 

जिलों के दौरे से स्थिति होगी स्पष्ट

वहीं केंद्रीय टीम के सदस्य डॉ नीरज ने कहा कि हमने कई बिंदुओं को देखा है और कई सेंटरों का दौरा भी किया है अभी जिले का दौरा करना बाकी है। उन्होंने कहा कि अभी तैयारियों को देखना होगा लेकिन अभी तक जो अधिकारियों के द्वारा बताया गया उससे लगता है की तैयारियां की गई हैं जिले के दौरा करने के बाद ही बहुत कुछ सामने आ पाएगा। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने ग्रामीण इलाकों में रैंडम जांच की बात कही। हालांकि पहले किन अस्पतालों का दौरा किया जाएगा, इस बात की जानकारी अधिकारियों को भी नहीं है।

स्वास्थ्य के अपर मुख्य सचिव प्रत्यय अमृत, राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक व स्वास्थ्य के अन्य वरीय अधिकारियों से सचिवालय स्थित कार्यालय कक्ष में बैठक कर कोविड नियंत्रण के लिए किए गए उपायों पर चर्चा की। टीम ने बिहार में आरटीपीसीआर जांच की संख्या बढ़ाने का सुझाव दिया है। इससे पहले टीम ने राज्य में सैंपल कलेक्शन की व्यवस्था की जानकारी ली। स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने ग्रामीण इलाकों में रैंडम जांच की बात कही। जिलों में भी जांच की व्यवस्था होने की जानकारी उन्हें दी गई। केंद्रीय टीम ने कॉन्टैक्ट ट्रेसिंग की व्यवस्था की जानकारी भी ली है। शाम में सिविल सर्जनों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में केंद्रीय टीम ने शामिल होकर जिलों में कोरोना की जांच व तैयारियों की व्यवस्था की जानकारी प्राप्त की। केंद्रीय टीम जिलों में अस्पतालों के दौरों पर भी जाएगी। जानकारी के अनुसार टीम रैंडमली अस्पतालों के दौरों पर जाएगी। पहले से यह तय नहीं है कि कहां जाएगी।

वैक्सीनेशन और आइसोलेशन सेंटर का लिया जायजा
इससे पहले केंद्रीय टीम ने सिविल सर्जन डॉ. विभा कुमारी सिंह के साथ टीम होटल पाटलिपुत्र अशोक स्थित वैक्सीनेशन सेंटर और पाटलिपुत्र स्पोर्ट काॅम्प्लेक्स स्थित कोरोना मरीजों के लिए तैयार आइसोलेशन सेंटर का जायजा लिया। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक टीम अंतिम में बताएगी कि वह किन-किन सेंटरों का निरीक्षण किया है और कहां क्या स्थिति है।


Find Us on Facebook

Trending News