बाढ़ से क्षति का आकलन करने केन्द्रीय टीम पहुंची भागलपुर, अधिकारियों के साथ की बैठक

बाढ़ से क्षति का आकलन करने केन्द्रीय टीम पहुंची भागलपुर, अधिकारियों के साथ की बैठक

BHAGALPUR : बिहार सरकार ने प्रदेश में बाढ़ से अब तक हुई क्षति का प्रारंभिक आकलन कर लिया है और सोमवार को बिहार पहुंची केन्द्रीय टीम के समक्ष बिहार सरकार ने अब तक 3764 करोड़ रुपये के जान-माल के नुकसान का प्रारंभिक ब्योरा दिया है. जल संसाधन विभाग ने बताया कि सबसे अधिक 1470 करोड़ का नुकसान उनके विभाग से जुड़ा है. जबकि कृषि विभाग के मुताबिक राज्य में 661 करोड़ की खेती चौपट हो गई है. 

केंद्रीय गृह मंत्रालय के संयुक्त सचिव राकेश कुमार सिंह के नेतृत्व में 5 सदस्यीय केंद्रीय टीम भागलपुर के जिला स्कूल मैदान हेलीकॉप्टर से पहुंची. उसके बाद केंद्रीय टीम डीआरडीए परिसर स्थित समीक्षा भवन में भागलपुर, बेगूसराय और खगड़िया के जिलाधिकारी,आपदा प्रबंधन सहित कई विभागों के अधिकारियों के साथ बैठक की. जिसमें बाढ़ के कारण हुए क्षति का ब्योरा केंद्रीय दल के समक्ष प्रोजेक्टर के माध्यम से  पेश किया गया. उसके बाद केंद्रीय टीम बाढ़ प्रभावित क्षेत्र नवगछिया में हुए बाढ़ से नुकसान का जायजा लेने रवाना हो गई.  

केंद्रीय गृह मंत्रालय के अपर सचिव राकेश कुमार सिंह के नेतृत्व में पहुंची टीम में केंद्रीय वित्त मंत्रालय के व्यय विभाग के निदेशक दीपेंद्र कुमार, कृषि सहकारिता एवं किसान कल्याण विभाग डीआरडी पटना निदेशक डॉ मान सिंह, जल शक्ति मंत्रालय बिहार के निदेशक संजीव कुमार सुमन, सड़क परिवहन व राजमार्ग मंत्रालय बिहार के सुपरीटेंडेंट इंजीनियर प्रदीप कुमार लाल, ग्रामीण विकास मंत्रालय के उप सचिव शैलेश कुमार मौजूद थे. हम आपको बता दें कि 2017 में केंद्र से 1700 करोड़ की मदद मिली थी. 2019 में करीब 1000 करोड़ की आर्थिक सहायता केंद्र से मिली थी और 2020 में केंद्र सरकार से 1255 करोड़ की मदद बाढ़ आपदा के समय मिली थी.

भागलपुर से अंजनी कुमार कश्यप की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News