कार में मिली सात करोड़ की चरस, बिहार से इस जिले से दूसरे राज्य भेजी जा रही थी नशीले पदार्थ की खेप

कार में मिली सात करोड़ की चरस, बिहार से इस जिले से दूसरे राज्य भेजी जा रही थी नशीले पदार्थ की खेप

GOPALGANJ : नशे के धंधेबाजों के खिलाफ पुलिस ने बड़ी कामयाबी हासिल की है। गोपालगंज पुलिस एक कार से बड़ी मात्रा में चरस की खेप बरामद की है। बताया जा रहा है कि बरामद चरस की कीमत लगभग सात करोड़ से अधिक की है। उक्त कार्रवाई कुचायकोट में वाहन जांच के दौरान की गई। जिसमें एक व्यक्ति को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया है।

एसडीपीओ ने बताया कि एसपी आनंद कुमार को सूचना मिली कि रक्सौल से एक कार में भारी मात्रा में चरस लेकर एक तस्कर वैगनार कार से तस्कर यूपी की तरफ जा रहे हैं। इस सूचना के बाद कुचायकोट थानाध्यक्ष किरण शंकर व एएसआइ महावीर प्रसाद ने बलथरी चेकपोस्ट पर गोपालगंज की दिशा से जा रही सभी वाहनों को रोककर उसकी तलाशी शुरू कर दी।

पुलिस को देख गाड़ी छोड़कर भागा तस्कर

चेकिंग के दौरान जैसे ही गाड़ी वहां पहुंची, तस्कर पुलिस को देखते ही अपनी गाड़ी को छोड़कर भागने लगा। पुलिस की टीम ने भाग रहे तस्कर को गिरफ्तार कर लिया। इसके बाद उसकी कार की तलाशी ली गई। इस दौरान कार में रखी 15 पैकेट चरस बरामद हुई। इसका वजन 36 किलो 900 ग्राम है।


हिसार का रहनेवाला है तस्कर 

गिरफ्तार तस्कर की पहचान हरियाणा के हिसार जिले के हासी थाना क्षेत्र के विडफार्म गांव निवासी शिव कुमार के रूप में की गई। उन्होंने बताया कि बरामद चरस की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाजार में करीब सात करोड़ रुपये बताई जा रही है। उसने बताया कि किया। चरस की खेप रक्सौल से हरियाणा के हिसार भेजी जा रही थी।

हरियाणा पुलिस से किया संपर्क

पुलिस ने चरस की खेप को बिहार के रक्सौल से हरियाणा तक मंगाने वाले गिरोह के सभी तस्करों को चिह्नित कर लिया है। गिरफ्तार किए गए तस्कर की निशानदेही पर जिले की पुलिस, हरियाणा पुलिस से संपर्क कर गिरोह के गुर्गों के खिलाफ भी छापेमारी अभियान चलाने में जुट गई है। सदर एसडीपीओ संजीव कुमार बताया कि गिरफ्तार किए गए तस्कर की निशानदेही पर रक्सौल व हरियाणा में छापेमारी अभियान चलाया जा रहा है।

Find Us on Facebook

Trending News