भ्रष्टाचार के आरोपी MVI अमिताभ 'केस' की हाईलेवल रिव्यू, 15 दिनों में 'चार्जशीट' दाखिल करने का टास्क, पोल खुलने से बौखलाये एमवीआई ने मुंह बंद रखने को दिया 'नोटिस'

भ्रष्टाचार के आरोपी MVI अमिताभ 'केस' की हाईलेवल रिव्यू, 15 दिनों में 'चार्जशीट' दाखिल करने का टास्क, पोल खुलने से बौखलाये एमवीआई ने मुंह बंद रखने को दिया 'नोटिस'

पटनाः आय से अधिक संपत्ति अर्जित केस में चार सालों से निलंबित चल रहे मोटरयान निरीक्षक अमिताभ कुमार को परिवहन विभाग ने 22 जून को निलंबन मुक्त कर पोस्टिंग कर दिया। इस मामले में आर्थिक अपराध इकाई भी कटघरे में खड़ी हो गई। पटना हाईकोर्ट के एक ऑर्डर का भी हवाला दिया गया। साथ ही तर्क दिया गया कि आर्थिक अपराध इकाई ने अब तक चार्जशीट दाखिल नहीं किया है। भ्रष्टाचार के आरोपी एमवीआई अमिताभ कुमार को निलंबन मुक्त कर सीधे फील्ड पोस्टिंग की खबर सरकार को भी लगी। इसके बाद परिवहन विभाग ने यू-टर्न लेते हुए 24 जून को भोजपुर एमवीआई के पद से हटाये हुए मुख्यालय में पदस्थापित कर दिया। आर्थिक अपराध इकाई पर चार्जशीट दाखिल नहीं करने का ठीकरा फोड़े जाने के बाद अब जांच एजेंसी भी हरकत में आई है। ईओयू के वरीय अधिकारी ने एमवीआई अमिताभ कुमार केस की समीक्षा की है। अगले हफ्ते कोर्ट में चार्जशीट दाखिल किये जाने का टास्क जांच अधिकारी को दिया गया है। इधर, भ्रष्टाचार के आरोपी एमवीआई बौखला गये हैं। उन्होंने मीडिया को डराने के लिए नोटिस दिया है। वैसे न्यूज4नेशन पूरे प्रमाण के साथ खबर ब्रेक करता है। इस तरह की गीदड़ भभकी से संस्थान डरने वाला नहीं। 

15 दिनों के अंदर दाखिल होगी चार्जशीट 

आर्थिक अपराध इकाई के विश्वस्त सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक सोमवार को एमवीआई केस की समीक्षा की गई है। वरीय अधिकारी को बताया गया कि इस केस में सारे सबूत जुटा लिये गये हैं। आईओ ने चार्जशीट दाखिल करने लायक प्रमाण इकट्ठा कर लिये हैं। एडीजी स्तर से केस के आईओ को 15 दिनों से पहले कोर्ट में आरोप पत्र समर्पित करने का निर्देश दिया गया है। जानकारों का कहना है कि अगले हफ्ते ही न्यायालय में आरोपी एमवीआई अमिताभ कुमार के खिलाफ पूरे प्रमाण के साथ कागजात जमा हो जायेंगे।

भ्रष्टाचार के आरोपी एमवीआई ने दिया नोटिस  

इधर, भ्रष्टाचार के आरोपी एमवीआई अमिताभ कुमार का निलंबन हटाने और पोस्टिंग की खबर मीडिया में आने के बाद सुशासन राज की भी भारी किरकिरी हुई है। खबर लीक होने के बाद आरोपी एमवीआई को भोजपुर से हटाया गया है। इसके बाद भ्रष्टाचार के आरोपी एमवीआई ने अब मीडिया को नोटिस थमा दिया है। न्यूज4नेशन ने इस खबर को प्रमुखता से छापा। इसके बाद आरोपी ने नोटिस देकर मुंह बंद करने की कोशिश की है। वैसे न्यूज4नेशन इस तरह की धमकी से डरने वाला नहीं। पूरे प्रमाण के साथ भ्रष्टाचार के आरोपियों की खबर पब्लिक को बताते रहेंगे। 

बता दें, आय से अधिक संपत्ति अर्जित करने के मामले में आर्थिक अपराध इकाई ने शिवहर के तत्कालीन एमवीआई अमिताभ कुमार के ठिकानों पर छापेमारी की थी। ईओयू की रिपोर्ट पर परिवहन विभाग ने मोटरयान निरीक्षक अमिताभ कुमार को निलंबित कर दिया था। 



ं 


Find Us on Facebook

Trending News