लोक आस्था का महापर्व छठ कल से होगा शुरू, 31 अक्टूबर को उदीयमान सूर्य को दिया जाएगा अर्घ्य

लोक आस्था का महापर्व छठ कल से होगा शुरू, 31 अक्टूबर को उदीयमान सूर्य को दिया जाएगा अर्घ्य

पटना. दो साल बाद इस साल छठ महापर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है। पूरे बिहार में लोक आस्था का महापर्व छठ की तैयारी जोरो पर है। कल यानी 28 अक्टूबर से नहाय खाय के साथ छठ महापर्व की शुरुआत हो रही है। 29 अक्टूबर को खरना मनाया जाएगा। 30 को अस्ताचलगामी यानी डूबते हुए सूर्य देव को व्रती अर्घ्य देंगे। 31 अक्टूबर को उदीयमान यानी उगते हुए सूर्य को अर्घ्य दे कर छठ व्रत का समापन हो जाएगा।

कोरोना की वजह से इस बार दो साल बाद पूरे उल्लास से छठ मनाया जाएगा। छठ को लेकर बाजार के साथ ही घाटों तक पर चहल-पहल शुरू हो चुकी है। पर अब भी बिहार के कई जिलों में घाटों की सफाई अधूरी पड़ी है। हालांकि पटना के घाट पर तैयारियां लगभग पूरी कर ली गई है और यहां छठ व्रतियों के लिए अच्छी व्यवस्था की गई है।

पटना नगर निगम इलाके के 59 छठ घाटों के निर्माण का कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा है। वहीं इस बार 16 घाटों पर सूर्य को अर्घ्य नहीं दिया जाएगा। 16 घाटों को खतरनाक घाट माना गया है। इसके लिए कल ही पटना जिला प्रशासन ने दिशा निर्देश जारी किया था। वहीं इस बार घाटों पर छठ व्रतियों के लिए खास इंतजाम भी किये जा रहे हैं।

Find Us on Facebook

Trending News