मुख्यमंत्री ने राज्य में बाढ़ और अल्प वृष्टि को लेकर की समीक्षा बैठक, अधिकारियों को दिए कई निर्देश

मुख्यमंत्री ने राज्य में बाढ़ और अल्प वृष्टि को लेकर की समीक्षा बैठक, अधिकारियों को दिए कई निर्देश

PATNA : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में राज्य में बाढ़ एवं अल्प वृष्टि से उत्पन्न स्थिति पर उच्च स्तरीय समीक्षा बैठक साढ़े 5 घंटे से अधिक समय तक चली। इस मौके पर मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को कई निर्देश दिए। उन्होंने कहा की बाढ़ के कारण किसानों द्वारा फसल नहीं लगाई जा सकी। उसे फसल क्षति मानते हुए उन सभी किसानों को उचित सहायता उपलब्ध कराएं। साथ ही किसानों की फसल क्षति का भी आकलन कर उन्हें सहायता उपलब्ध कराएं। 

उन्होंने कहा की जल संसाधन विभाग बाढ़ के स्थाई समाधान के लिए  दीर्घकालीन योजना बनाकर कार्य करें। ताकि बाढ़ का असर कम से कम हो। कृषि विभाग, आपदा प्रबंधन विभाग एवं सभी जिलों के जिलाधिकारी बाढ़ के कारण हुई क्षति का पंचायत वार सही तरीके से आकलन करें। ताकि उसके आधार पर सभी प्रभावितों की मदद की जा सके। कोई भी बाढ़ आपदा पीड़ित सहायता से वंचित ना रहे। 3 से 4 दिनों में बाढ़ से हुई क्षति का पूर्ण आकलन कर लें। इसके पश्चात जिलों के प्रभारी मंत्री संबंधित जिलों में जाकर जिलाधिकारियों के साथ बैठक कर इसे अंतिम रूप दें। 

उन्होंने कहा की पशु एवं मत्स्य संसाधन विभाग बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में पशु क्षति का भी ठीक से आकलन कराएं और पशुपालकों की सहायता करें।जिलों के उन विशिष्ट क्षेत्रों का भी आकलन करें। जहां अल्पवृष्टि की स्थिति बन रही हो। मुख्यमंत्री ने कहा, हर वर्ष बाढ़ के कारण बिहार का बहुत बड़ा क्षेत्र प्रभावित होता है। इसके लिए पूरी तत्परता के साथ हम लोग बचाव एवं राहत का काम लगातार कर रहे हैं।


Find Us on Facebook

Trending News