शराबबंदी को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दिखाई सख्ती, कहा फिर करेंगे समीक्षा

शराबबंदी को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दिखाई सख्ती, कहा फिर करेंगे समीक्षा

PATNA : मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जनता के दरबार में मुख्यमंत्री कार्यक्रम के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा की कोरोना की वजह से जनता दरबार में आनेवाले लोगों की संख्या 300 के करीब की गयी है. स्थिति नियंत्रण में होने के बाद पहले की तरह लोगों आने लगेंगे. उन्होंने कहा की कोरोना की रोकथाम के लिए अधिक से अधिक लोगों की जांच करायी जा रही हैं. वही उन्होंने कहा की इससे बचने के लिए लोगों को वैक्सीन भी लगायी जा रही हैं. मुख्यमंत्री ने बिहार के दो विधानसभा क्षेत्रों में हुए उपचुनाव को लेकर कहा की अब जनता मालिक है. कुछ लोग हमलोग पर अनाप शनाप बोलते हैं तो उन्हें पब्लिसिटी मिलती है. 

उन्होंने कहा की चुनाव आयोग कार्रवाई करता हैं. उन्हें कोई रोक नहीं नहीं सकता है. शराबबंदी को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा की विधानसभा और विधान परिषद् की ओर से संकल्प पारित किया गया. वहीँ सरकारी कर्मियों ने भी संकल्प लिया. जिसके बाद बिहार में शराबबंदी लागु किया गया. अब जो लोग गड़बड़ी करते हैं. उनपर कार्रवाई भी होती है. उन्होंने कहा की अधिकतर लोग शराबबंदी के पक्ष में हैं. सब लोग जानते हैं की इसे पिने से नुकसान होता है. कुछ लोग ही इसके खिलाफ है. जो लोग पीना चाहते हैं. इसका धंधा करते हैं. वहीँ इसके खिलाफ है. उनलोगों से अपील है की यह गड़बड़ है. ऐसा मत कीजिये.

उन्होंने कहा की कोरोना की वजह से हमलोगों का ध्यान उधर केन्द्रित हो गया है. इसकी फिर समीक्षा करेंगे. उन्होंने कहा की इसका दावा नहीं किया जा सकता की सब ठीक है. कुछ लोग गड़बड़ी करते ही हैं. लेकिन ऐसे लोग पकडाते भी हैं. पकडाते ही नहीं है, नौकरी से भी जाते हैं. 



Find Us on Facebook

Trending News