अलीगढ़ : झोलाछाप डॉक्टर की वजह से बच्चे की गई जान, गुस्साए परिजनों ने किया सड़क जाम

अलीगढ़ : झोलाछाप डॉक्टर की वजह से बच्चे की गई जान, गुस्साए परिजनों ने किया सड़क जाम

अलीगढ़. कोतवाली खेर कस्बे में झोलाछाप डॉक्टर के द्वारा लगाए गए इंजेक्शन के चलते एक मासूम झोलाछाप डॉक्टर के बलि चढ़ गया. बुखार से पीड़ित बच्चे के इंजेक्शन लगने के बाद ही मौत हो गई. गुस्साए परिजनों ने अलीगढ़ पलवल हाईवे पर झोलाछाप डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग को लेकर हंगामा करते हुए जाम लगा दिया गया. मौके पर पहुंची पुलिस ने मकान मालिक को हिरासत में लिया है. वहीं झोलाछाप डॉक्टर मौके से फरार हो गया.

उत्तर प्रदेश के जनपद अलीगढ़ की कोतवाली खैर इलाके में एक झोलाछाप डॉक्टर की लापरवाही के चलते मासूम बच्चे की इंजेक्शन लगाने के बाद उपचार के दौरान मौत हो गई. 5 वर्षीय बच्चे की मौत का जिम्मेदार परिजनों ने झोलाछाप डॉक्टर के द्वारा गलत दवाई और इंजेक्शन देकर इलाज करना बताया है. बच्चे की मौत के बाद गुस्साए परिजनों ने अलीगढ़ पलवल हाईवे को बच्चे का शव रख जाम लगा दिया. बच्चे की मौत होने पर डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई करने को लेकर परिजनों द्वारा जाम लगाने की सूचना कोतवाली खेर पुलिस को दी गई.

जानकारी के अनुसार कोतवाली खैर इलाके के अलीगढ़ पलवल मार्ग पर बने अजीत कोल्ड स्टोर के पास स्थित एक झोलाछाप डॉक्टर पिछले कई वर्षों से अपना क्लीनिक चला रहा था. इसी क्लीनिक पर तहसील क्षेत्र के गांव चमन नगरिया निवासी परिजन अपने 5 वर्षीय बच्चे की तबीयत खराब होने के चलते उपचार के लिए लेकर पहुंचे थे, यहां रविवार की देर रात बच्चे की सर्दी और खांसी होने के चलते तबीयत खराब हो गई थी. यहां झोलाछाप डॉक्टर ने उपचार शुरू करते हुए बच्चे को बुखार खांसी की जगह किसी और चीज का इंजेक्शन लगा दिया गया, जिसके बाद बच्चे की तबीयत बिगड़ गई और कुछ ही घंटों बाद गलत दवाई देने और इंजेक्शन लगाने के चलते 5 वर्षीय बच्चे की मौत हो गई.

डॉक्टर द्वारा गलत इंजेक्शन लगा देने के बाद बच्चे की मौत होने पर गुस्साए परिजनों ने अलीगढ़ पलवल हाईवे जाम लगा दिया. परिजनों द्वारा बच्चे की मौत का जिम्मेदार डॉक्टर के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की गई. वहीं गुस्साए परिजनों ने जमकर हंगामा कियाय 5 वर्षीय बच्चे की मौत पर परिजनों द्वारा जाम लगाने की सूचना मिलते ही कोतवाली खेर पुलिस थाना अध्यक्ष सहित पुलिसकर्मी मौके पर पहुंच गए. मौके पर पहुंचे थाना अध्यक्ष प्रवेश कुमार ने घंटों की मशक्कत के बाद मृतक बच्चे के परिजनों का समझा-बुझाकर सड़क पर लगाए गए जाम को बामुश्किल खुलवाया गया.

वहीं मौके पर पहुंची पुलिस ने मकान मालिक को हिरासत में लिया है, जबकि झोलाछाप डॉक्टर मौके से फरार हो गया. परिजनों की मांग है कि बच्चे की मौत के जिम्मेदार झोलाछाप डॉक्टर के खिलाफ पुलिस के द्वारा कड़ी से कड़ी कार्रवाई करते हुए मुकदमा दर्ज किया जाए. इसके बाद गुस्साए परिजनों द्वारा अलीगढ़ पलवल हाईवे पर लगाए जाम को खोला गया. पुलिस ने मृतक बच्चे के शव को कब्जे में लेकर पंचनामा भरते हुए पोस्टमार्टम के लिए अलीगढ़ मोर्चरी भिजवा दिया है.

मृतक बच्चे की मां सरस्वती के बताए अनुसार रविवार की देर रात उसके 5 वर्षीय बेटे की सर्दी खांसी के चलते तबीयत खराब हो गई थी. उपचार के लिए झोलाछाप डॉक्टर के पास पहुंचे थे, यहां झोलाछाप डॉक्टर ने इलाज के दौरान उसके 5 वर्षीय बच्चे को इंजेक्शन लगा दिया. डॉक्टर के द्वारा इंजेक्शन लगाने के बाद उसके बेटे की मौत हो गई है.

Find Us on Facebook

Trending News