LJP में मची भगदड़ रोकने को लेकर चिराग बांट रहे पद! बिहार की राजनीति में शून्य पर पहुँच गई पार्टी

LJP में मची भगदड़ रोकने को लेकर चिराग बांट रहे पद! बिहार की राजनीति में शून्य पर पहुँच गई पार्टी

PATNA : बिहार में लोक जनशक्ति पार्टी का अब कोई एमएलए और एमएलसी नहीं रहा. इस बीच लोजपा ने किया केंद्रीय संगठन का विस्तार किया है. वहीँ प्रमोशन देकर कुछ नेताओ को अहम पद दिया गया है. कुछ नए और पुराने नेताओं के ताल मेल को बनाया गया है. लोजपा के सबसे पुराने नेताओं में से पूर्व विधायक अनिल चौधरी व पार्टी के वफ़ादार वीरेश्वर सिंह को राष्ट्रीय महासचिव बनाया गया है. जबकि पूर्व सांसद रेणु कुशवाहा चिराग़ की कमेटी में राष्ट्रीय महासचिव बनी है. 

इसी क्रम में पार्टी के वरिष्ठ सहयोगी मुंगेर निवासी मिथलेश सिंह व उषा शर्मा को राष्ट्रीय सचिव बना कर आने वाले दिनो में साफ़ संकेत दिए गए हैं  की पार्टी में काम करने वालों व वफ़ादारों को ही जगह दी जाएगी. चुनाव के दौरान पार्टी में आए नए नेताओं को भी अब पार्टी ने अपने काम में लगाने का क्रम शुरू कर दिया है. 

पूर्व विधायक रविंद्र यादव व पार्टी से प्रत्याशी रहे विजय कुमार सिंह को राष्ट्रीय कार्यकारिणी का सदस्य बनाया गया. बताते चलें की बिहार लोजपा के एकमात्र विधायक राजकुमार सिंह अपनी पार्टी को छोड़कर जदयू में शामिल हो चुके है. वहीँ एक मात्र विधान पार्षद नूतन सिंह भी भाजपा का दामन थाम चुकी हैं.पार्टी के वफ़ादार और तेज तर्रार निडर काम करने वाले पूर्व प्रधान महासचिव पद पर काम कर चुके नेता शाहनवाज़ कैफ़ी को केंद्रीय संसदीय बोर्ड का सदस्य बना कर साफ़ संदेश दिया है की पार्टी में उनकी अहमीयत बरकार है और भरोसेमंद नेताओं को पार्टी उचित स्थान दे रही है.

पटना से रंजन की रिपोर्ट  



Find Us on Facebook

Trending News