चिराग पासवान सीएम नीतीश पर किया हमला, कहा जनादेश का अपमान करनेवाले नहीं बन सकते पीएम

चिराग पासवान सीएम नीतीश पर किया हमला, कहा जनादेश का अपमान करनेवाले नहीं बन सकते पीएम

GAYA : लोक जनशक्ति पार्टी के तीन दिवसीय प्रशिक्षण शिविर  का आयोजन किया जाएगा।  23- 25 सितंबर के बीच बोधगया मे ये शिविर लगाई जाएगी। इसके तहत कार्यकर्ताओ को प्रशिक्षण दिया जाएगा। उक्त बातें लोक जनशक्ति पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान  प्रेस वार्ता के दौरान बताया। रविवार को बोधगया के एक निजी होटल में चिराग पासवान पत्रकारों को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री पर जमकर बरसे। 

उन्होंने कहा कि बार-बार जिनके ऊपर नीतीश कुमार दोषारोपण करते रहे। उन्हीं के साथ मिलकर आज सरकार बनाये है। लोकतंत्र के मंदिर में खड़े होकर उन्होंने वादा किया था कि मिट्टी में मिल जाऊंगा लेकिन भाजपा के साथ नहीं जाऊंगा। जबकि वर्ष 2017 में भी उन्होंने भाजपा के साथ मिलकर सरकार बना ली। जो मुख्यमंत्री बार-बार जनादेश का अपमान करता हो वो क्या प्रधानमंत्री का दावेदार होगा।उन्होंने कहा की  ऐसी हरकत देखते हुए उम्मीद है कि अगले चुनाव में नीतीश कुमार खाता भी नहीं खोल पाएंगे। 

उन्होंने कहा कि आज अपनी व्यक्तिगत महत्वाकांक्षाओं के लिए ही दोनों पार्टी एक साथ हुई है। इन लोगों के एक के बाद एक करनामें सामने आ रहे हैं, कभी शपथ के दिन इन के कानून मंत्री पर वारंट आ जाता है, तो कभी मंत्रियों के परिजन सरकारी बैठक में बैठे दिख जाते हैं। बिहार में सीटेट बिटेट करने के बाद भी युवा सड़क पर भटक रहे हैं। जबकि बिहार में लाखों की संख्या में टीचर की जरूरत है। आखिर वैकेंसी क्यों नहीं निकाली जाती। इन लोगों के कार्यकाल में शिक्षा से लेकर छात्रों तक बुरा हाल हो गया है। 

चिराग पासवान ने कहा  की  यह सरकार अपराधियों की संरक्षण देने वाली सरकार है। अब डबल जंगलराज आ गई है, इसका दोषी नीतीश कुमार है। उन्होंने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री ठीक से नहीं बन पाए तो वह देश के प्रधानमंत्री क्या बनेंगे। चिराग ने कहा की मॉडल कि बात करते है। चिराग मॉडल ने नीतीश माडल को धराशाई कर दिया। उन्होंने आगे कहा कि तीन सौ,चार सौ विधायक वाले मंत्री शांत रहेंगे और यह 40 विधायक वाले को प्रधानमंत्री का दावेदार बनाएंगे ये अशोभनीय होगा। उन्होंने कहा की आगामी विधानसभा के चुनाव के लिए लोक जनशक्ति पार्टी अपनी तैयारी जोरों से कर रही है। अगली सरकार बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट की सरकार बनेगी, और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की पार्टी खाता भी नहीं खोल पाएंगे। उन्होंने कहा कि बिहार में ये सरकार भी बहुत जल्द गिरने वाली है। 7 से 8 महीने में बिहार चुनाव की ओर अग्रसर होगा। उन्होंने कहा कि चुनाव के वक्त यह निर्णय लिया जाएगा कि लोक जनशक्ति पार्टी किसके साथ गठबंधन करेगी।

बोधगया से संतोष की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News