LJP ने बिहार के रण में 42 रणबाकुंरों को उतारा पर मैदान से सेनापति ही गायब, चिराग दिल्ली से ही जीत की दे रहे अग्रिम बधाई

LJP ने बिहार के रण में 42 रणबाकुंरों को उतारा पर मैदान से सेनापति ही गायब, चिराग दिल्ली से ही जीत की दे रहे अग्रिम बधाई

PATNA: बिहार विधान सभा चुनाव को लेकर लोजपा ने पहले चरण के लिए 42 प्रत्याशियों की लिस्ट जारी कर दी है.इनमें से अधिकांश वैसी सीटें हैं जहां से जेडीयू ने अपने प्रत्याशी उतारे हैं। जेडीयू से विवाद के बाद एलजेपी अध्यक्ष चिराग पासवान ने यह एलान किया था कि लोजपा जेडीयू की सभी सीटों पर अपना उम्मीदवार उतारेगी। इसके बाद आज आधिकारिक तौर पर 42 उम्मीदवारों की सूची जारी की है। लोजपा के सेनानी मैदान में उतर गये हैं लेकिन सेनापति का ही कोई अता-पता नहीं है।

42 रणबाकुंरों को मैदान में उतारा 

बिहार में पहले चरण के मतदान को लेकर आज नामांकन की अंतिम तारीख थी।पहले चरण में लोजपा ने 42 विस क्षेत्र में अपने उम्मीदवार उतारे हैं। लोजपा के सिपाही तो मैदान में उतर गये हैं लेकिन सुप्रीमो का रण में कहीं कोई अता-पता नहीं है।रण बिहार में सजा है और पक्ष-विपक्ष के तमाम क्षत्रप रणभूमि में कूदने को पटना में रणनीति बना रहे हैं।भाजपा-जेडीयू-राजद समेत तमाम दलों के बड़े नेता महीनों से पटना में कैंप किये हुए हैं लेकिन लोजपा सुप्रीमो का कहीं कोई अता-पता नहीं है। नीतीश कुमार को सीएम का चेहरा स्वीकार नहीं करने पर जेडीयू-बीजेपी ने लोजपा को एनडीए से बाहर का रास्ता दिखा दिया है।चिराग पासवान भले हीं लगातार यह कहते रहे हों कि उनका गठबंधन बीजेपी के साथ है लेकिन भाजपा के नेताओं ने इसे सिरे से खारिज कर दिया है।बीजेपी ने स्पष्ट कर दिया है कि लोजपा हमारे स्टार प्रचारक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का चेहरा और काम को आधार बनाकर जनता के बीच नहीं जा सकती।

बिहार में रण और रणनीति दिल्ली में 

लोजपा के 42 कैंडिडेट्स मैदान में तो उतर गये हैं लेकिन अपने सेनापति को नहीं देख परेशान हैं।कई उम्मीदवारों ने बताया कि मैदान में तो उतरे हैं लेकिन लोजपा में रणनीति का घोर अ्भाव है। लग रहा है कि हम सब बिना नेतृत्व के ही मैदान में उतरे हैं ।अगर ऐसी ही स्थिति रही तो हम लोग वोटकटवा के रूप में साबित होंगे।

चिराग पासवान ने दी बधाई 

लोजपा सुप्रीमों चिराग पासवान ने लोक जनशक्ति पार्टी के सभी प्रत्याशीयों को ढेर सारी बधाई देते हुए कहा है कि बिहार के आने वाले भविष्य लिए आप सभी का जीतना ज़रूरी है. जे॰डी॰यू॰ को वोट देने का मतलब बिहार को बर्बाद करना. पापा की सेहत ज़्यादा ख़राब होने के कारण आप सब के बीच अभी नहीं आ पा रहा हूँ. पापा की सेहत ठीक होते ही आप सब के साथ बीच रहूँगा। आप सभी को जीत की अग्रिम बधाई. बता दें कि लोजपा सुप्रीमो काफी समय से दिल्ली में हैं।वे लगातार दिल्ली से ही नीतीश कुमार पर हमला बोल रहे हैं।दिल्ली से ही रणनीति बनाकर बिहार का रण जीतने की कोशिश में लगे हैं।हालांकि उनके पिता बीमार हैं और अस्पताल में भर्ती हैं।चिराग ने पत्र लिखकर स्पष्ट किया है कि पिताजी बीमार हैं ऐसी स्थिति में मेरे लिए मुश्किल घड़ी है।




Find Us on Facebook

Trending News