जदयू के 'रामचंद्र' की अवैध सम्पत्ति को लेकर बोले चिराग पासवान, केंद्र में मंत्री और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहते नहीं लगा भ्रष्टाचार का आरोप

जदयू के 'रामचंद्र' की अवैध सम्पत्ति को लेकर बोले चिराग पासवान, केंद्र में मंत्री और जदयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष रहते नहीं लगा भ्रष्टाचार का आरोप

GAYA :  लोजपा (रामविलास) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान एकदिवसीय दौरे पर गया पहुंचे। जहां एयरपोर्ट पर कार्यकर्ताओं ने उनका जोरदार तरीके से स्वागत किया। इस मौके पर मीडिया से बातचीत में चिराग पासवान ने मगध विश्वविद्यालय में सेशन लेट से छात्रों की हो रही समस्या पर कहा कि बिहार में 3 साल का कोर्स 5 साल तक चलता है। पूरे प्रदेश में शिक्षा को लेकर छात्रों को संघर्ष करना पड़ रहा है। 


वही मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर हमला करते हुए चिराग ने कहा कि जदयू दो फाड़ में चल रही है। एक बीजेपी का समर्थन करती है, तो दूसरी संभवता समर्थन करती है। लेकिन भाजपा को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचाने का काम करती है। एक में आरसीपी सिंह है, दूसरे में नीतीश कुमार है। 

उन्होंने जदयू के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह पर लगे 40 बीघा जमीन रखे जाने के आरोप पर कहा कि सरकार नीतीश कुमार की है। आरोप लगाने से क्या होता है। जांच कर कार्रवाई करें। उन्होंने कहा जब यह पार्टी के केंद्र में मंत्री व राष्ट्रीय अध्यक्ष थे। उस वक्त भ्रष्ट नहीं थे। चिराग ने आगे कहा की कहीं ना कहीं आरसीपी सिंह नीतीश कुमार के रीढ़ की हड्डी थे। जदयू के लोग यह बात अब भूल जाते हैं। और तो और आरसीपी सिंह ने 5 बार नीतीश कुमार को सीएम बनने में मदद की थी तो क्या वे उस वक्त भ्रष्ट नहीं थे।

बिहार में जहरीली शराब से हुई मौत पर चिराग पासवान ने कहा की अब शराब का निर्माण धंधा बन गया है। इसका मुख्य कारण शराबबंदी की विफलता है। इसका खामियाजा आम बिहारी भुगत रहे हैं। चिराग ने कहा की जांच करनी जहरीली शराब बनानेवालों की। लकिन जांच की बात की जा रही है आरसीपी सिंह की। उन्होंने कहा की नीतीश जी बताये की एक भी बड़ा गिरोह शराबकांड में पकड़ा गया हो। 





Find Us on Facebook

Trending News