'चौकीदार चोर है' बयान पर सुप्रीम कोर्ट नाराज, राहुल गांधी को मांगनी पड़ी माफी

'चौकीदार चोर है' बयान पर सुप्रीम कोर्ट नाराज, राहुल गांधी को मांगनी पड़ी माफी

NEW DELHI : 'चौकीदार चोर है' बयान पर आखिरकार कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सुप्रीम कोर्ट में माफी मांग ली है। आज की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस अध्यक्ष के खेद जताने के तरीके पर काफी नाराजगी जताई और उन्हें फटकारा। इस दौरान अदालत ने राहुल के द्वारा दाखिल किए गए हलफनामे की भाषा पर नाराजगी व्यक्त की है। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई सुनवाई के दौरान राहुल गांधी के वकील अभिषेक मनु सिंघवी से कहा कि ब्रैकेट में खेद जताने का क्या मतलब है। इसके बाद राहुल के वकील अभिषेक मनु सिंघवी ने अपने मुवक्किल की तरफ से माफी मांगी। बता दें कि राहुल के इस बयान पर बीजेपी नेता मीनाक्षी लेखी ने अवमानना की याचिका दाखिल की थी।

अब इस मसले पर अगली सुनवाई सोमवार को होगी. अदालत की तरफ से राहुल गांधी को हलफनामा दायर करने के लिए एक और मौका दिया है, लेकिन इस मौक को ऐसा ना समझें कि माफी को स्वीकार कर लिया गया है।

चीफ जस्टिस रंजन गोगोई ने राहुल गांधी के वकील से पूछा कि जब हमने अपने फैसले में ये बातें (चौकीदार चोर है) नहीं कहीं तो ऐसा क्यों कहा जा रहा है। अदालत ने राहुल गांधी के हलफनामे की भाषा पर भी सवाल खड़े किए हैं। सीजेआई ने पूछा है कि दूसरा हलफनामा क्यों दाखिल किया गया है, आपने कहां पूरा खेद जताया है।

Find Us on Facebook

Trending News