चुनाव से पहले नक्सलियों के मंसूबे पर फिरा पानी, पुलिस के साथ मुठभेड़ में नक्सली को लगी गोली, हथियार सहित आपत्तिजनक सामान बरामद

चुनाव से पहले नक्सलियों के मंसूबे पर फिरा पानी, पुलिस के साथ मुठभेड़ में नक्सली को लगी गोली, हथियार सहित आपत्तिजनक सामान बरामद

JAMUI : बिहार चुनाव के पहले चरण के लिए 28 अक्टूबर को मतदान होना तय है. जिसमे जमुई जिले के भी चार विधानसभा क्षेत्र जिसमे जमुई, सिकन्दरा, झाझा और चकाई भी शामिल है. जिला पुलिस प्रशासन की ओर से इस चुनाव को निष्पक्ष और शांतिपूर्ण ढंग से सफल बनाने को लेकर अभी से काफी तैयारियां की गयी है. इसके  मद्देनजर चुनाव में नक्सली कोई खलल पैदा न कर पाए, इसके लिए लगातार पुलिस सर्च ऑपरेशन चला रही है.  जमुई जिले के 10 मे से 8 प्रखंड को नक्सलियों का गढ़ माना जाता है. 

इसी कड़ी में जमुई जिले के लक्ष्मीपुर थाना क्षेत्र अंतर्गत जमुई-मुंगेर सीमावर्ती इलाके में कोबरा-नक्सली मुठभेड़ के बाद पुलिस ने भारी मात्रा में नक्सली सामान बरामद किया है. हालांकि इस दौरान किसी नक्सली के मार गिराए जाने की सूचना नहीं है. लेकिन बताया यह जा रहा है कि एक नक्सली को गोली लगी है. हालाँकि उसके साथी उसे लेकर भाग निकले. मुठभेड़ की पुष्टि मुंगेर प्रक्षेत्र के पुलिस उपमहानिरीक्षक (डीआईजी) मनु महाराज ने की. जानकारी के अनुसार बीते शनिवार देर शाम से जमुई-लखीसराय-मुंगेर पुलिस की संयुक्त कार्रवाई की गई. इस ज्वाइंट ऑपरेशन में सीआरपीएफ, कोबरा, एसटीएफ सहित अन्य पैरामिलिट्री फोर्सेस और बिहार पुलिस के जवानों को शामिल किया गया. जिसके बाद सुरक्षाबलों ने जमुई जिले के नक्सल प्रभावित चोरमारा, गुरमाहा, कारमेघ, मुंगेर जिले के खड़गपुर, पैसरा, राजेसराई और लखीसराय जिले के सतगढ़वा, कछुआ, लाठियाकोल, हदहदीया आदि गांव में ऑपरेशन चलाया गया. डीआईजी ने बताया कि इस क्रम में जमुई-मुंगेर सीमा पर स्थित मुंगेर जिले के पैसरा इलाके में नक्सली दल ने कोबरा 207 की टीम पर हमला कर दिया. उक्त दल में 20 से 25 की संख्या में नक्सली शामिल थे. जिसका नेतृत्व नक्सली सहदेव सोरेन कर रहा था. इस दौरान दोनों तरफ से कई राउंड फायरिंग हुई है. हालांकि नक्सली मौके से भाग निकले, लेकिन इस दौरान पुलिस ने कई सामान बरामद किया है. डीआईजी ने बताया कि उक्त स्थान से सुरक्षा बलों ने एक पिस्टल, दो रेडियो सेट, एक ग्रेनेड, 4 पाउच एमो, आईडी बनाने में प्रयुक्त किया जाने वाला मटेरियल, चुनाव से संबंधित कई सामान, भोजन और अन्य सामान बरामद किया है. 

गौरतलब है कि बीते रविवार को जमुई-मुंगेर सीमावर्ती इलाके पर स्थित पैसरा के जंगली इलाके में नक्सलियों की कोबरा 207 बटालियन के जवानों के साथ मुठभेड़ हुई थी. इसके बाद कोबरा ने मौके से भारी मात्रा में नक्सली सामान बरामद किया है. जिसमें विधानसभा चुनाव के बहिष्कार को लेकर कई सामान मौजूद है. बरामद सामानों में सबसे अधिक मात्रा में चुनावी पर्चे हैं, जिस में नक्सलियों ने ऐलान किया है कि आम लोग विधानसभा चुनाव का बहिष्कार करें. उन्होंने कहा है कि आप चाहते हैं कि भूख से मरे, अगर ऐसा नहीं तो आप विधानसभा चुनाव का बहिष्कार करें. इसके अलावा उन्होंने बिहार विधानसभा चुनाव का बहिष्कार कर जनवाद के निर्माण करने का ऐलान भी किया है.  

जमुई जिले के नक्सल प्रभावित चोरमारा, गुरमाहा, कारमेघ, मुंगेर जिले के खड़गपुर, पैसरा, राजेसराई और लखीसराय जिले के सतगढ़वा, कछुआ, लाठियाकोल, हदहदीया आदि गांव में पुलिस ने ऑपरेशन चलाया. इसी क्रम में कोबरा 207 बटालियन के जवानों का सामना नक्सली प्रवेश के दस्ते से पैसरा के इलाके में हुआ. जहां मुठभेड़ भी हुई है. हालांकि इसमें किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है, परंतु सुरक्षाबलों को देखकर नक्सली वहां से भाग निकले. इसके बाद पुलिस ने भारी मात्रा में नक्सली सामान बरामद किया है. छापेमारी दल का नेतृत्व कोबरा 207 बटा. कमांडेंट रवि शंकर कुमार के द्वारा किया गया. जबकि छापेमारी दल में द्वितीय कमान अधिकारी विकेश कुमार, सहायक कमांडेंट श्याम सुंदर, सहायक कमांडेंट अमित कुमार, सीएम कंडन सतवान, निरीक्षक विपुल कुमार, उपनिरीक्षक मोहन कुमार आदि शामिल थे.

जमुई से बृजमोहन भगत की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News