सीआईडी एसपी वीणा कुमारी पहुंची मोतिहारी, नाबालिग से गैंगरेप के बाद हत्या मामले की जांच

सीआईडी एसपी वीणा कुमारी पहुंची मोतिहारी, नाबालिग से गैंगरेप के बाद हत्या मामले की जांच

MOTIHARI : पूर्वी चंपारण जिला के कुड़वाचैनपुर थाना क्षेत्र में नेपाली नाबालिग लड़की के साथ गैंग रेप के बाद हत्या कर शव को जबरन जलाने व थानेदार और आरोपित का ऑडियो वायरल होने के बाद मामला तूल पकड़ने लगा है. मंगलवार को सीआईडी पटना एसपी वीणा कुमारी व सीनियर डीएसपी ममता कल्याणी सहित पुलिस टीम द्वारा घटना की जांच किया गया. टीम ने घटनास्थल, शव जलाने का स्थल,चौकीदार,आसपास के दुकानदार,नर्सिंग होम के डॉक्टर,थाना के सीसीटीवी फुटेज सहित की घटना के बारे में जांच व पूछताछ किया गया. पूछताछ में चौकीदार द्वारा बताया गया कि घटना के दिन ही थानेदार को सूचना दी गई थी. वही सिकरहना डीएसपी सहित थानेदार से की गई कार्रवाई की जानकारी ली गई. 

सीआईडी टीम द्वारा घटनास्थल के आसपास के दुकानदार,नर्सिंग होम के डॉक्टर व कर्मी से गहनता से कई बिंदु पर पूछताछ कर जानकारी ली गई. वही शव जलाए गए स्थल का भी मुआयना किया गया. वही क्षेत्र के चौकीदार से भी गहनता से पूछताछ किया गया. पूछताछ में चौकीदार ने बताया कि घटना की जानकारी थानेदार को दिया था. लेकिन कार्रवाई क्यो नही की गई. इसके बारे में कोई जानकारी नही है. वही टीम द्वारा थाना के सीसीटीवी की फुटेज का भी जांच किया गया. जांच टीम पदाधिकारी ने बताया कि पुलिस कार्रवाई जानकारी ली गई है. 

मोतिहारी जिला के कुड़वाचैनपुर थाना  क्षेत्र में 21 जनवरी को पड़ोसी देश नेपाल के रात्रि प्रहरी की नाबालिग पुत्री के साथ दबंगो द्वारा रेप की घटना  को अंजाम देने के बाद हत्या करने का आरोप लगाकर रात्रि प्रहरी ने 2 फरवरी को प्राथमिकी दर्ज कराया था. रात्रि प्रहरी ने डीएसपी को दिए आवेदन में बताया कि वह रात में शहर में रात्रि प्रहरी का कार्य करता था. दिन में चाय बेचकर परिवार का भरण पोषण करता था. 21 जनवरी को डेरा में रह रही नाबालिग लड़की के साथ रेप की घटना को अंजाम देकर उसकी हत्या कर दिया गया. वही आरोपियों द्वारा जबरन रात में ही शव को जल दिया गया. आरोपियों ने पीड़ित परिवार को जबरन नेपाल भेज दिया. पीड़ित के सगा संबंधी को इस बात की जब जानकारी हुई तो पीड़ित परिवार ने घटना के 17 दिन बाद डीएसपी को आवेदन देकर न्याय की गुहार लगायी. डीएसपी के दिए आवेदन में पीड़ित परिवार ने 13 वर्षीय पुत्री के साथ दुष्कर्म कर हत्या करने व ज़बरन शव जलाने का आरोप लगाया है. वही थानेदार व आरोपी के शव जलाने में पुलिस का सहयोग करने के ऑडियो वायरल होने पर एसपी ने थानेदार को निलंबित कर विभागीय कार्रवाई शुरू कर दी. पुलिस ने दो नामजद आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. वही बाकी आरोपियों के गिरफ्तारी को लेकर सिकरहना डीएसपी के नेतृत्व में आठ सदस्यीय एसआईटी टीम का गठन किया गया है. 

शनिवार को जब सोशल मीडिया पर कुड़वाचैनपुर थाना के  थानेदार संजीव रंजन व आरोपी के शव को ठिकाने लगाने की हुई बातचीत का ऑडियो वायरल होने लगा. वायरल ऑडियो में थानेदार द्वारा आरोपियों को शव रात में ही जलाने,जल्द लकड़ी की व्यवस्था करने,लड़की के पिता से ठंड से मौत की बात कागज पर लिखवाने सहित सलाह दी जा रही है. ऑडियो वायरल होते ही एसपी नवीन चंद्र झा ने कुड़वाचैनपुर थानेदार संजीव रंजन को निलंबित करते हुए ऑडियो की जांच के लिए सिकरहना डीएसपी को कमान दिया है. जांच रिपोर्ट मिलने पर थानेदार पर प्राथमिकी दर्ज करने की बात कही गई है. वही आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए आठ सदस्यीय  एसआईटी टीम का गठन किया गया है. एसपी ने डीएसपी को निर्देश दिया है कि उक्त कांड में सभी आरोपियों की गिरफ्तारी आदेश देते हुए त्वरित कुर्की जप्ती की कार्रवाई करने की प्रक्रिया करे. 

मोतिहारी से हिमांशु की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News