बिहारशरीफ में कभी भी ठप हो सकती है सफाई और जलापूर्ति, मांग पूरी नहीं होने पर कर्मियों ने जताई नाराजगी

बिहारशरीफ में कभी भी ठप हो सकती है सफाई और जलापूर्ति, मांग पूरी नहीं होने पर कर्मियों ने जताई नाराजगी

NALANDA : वेतन वृद्धि समेत 6 सूत्री मांगों को लेकर नगर निगम सफाई कर्मी और पंप ऑपरेटरों ने बिहारशरीफ के सोगरा उच्च विद्यालय के मैदान में बैठक कर आगे की रणनीति बनायी गयी। सफाई कर्मी के जिलाध्यक्ष विक्की कुमार ने बताया कि कई बार मांग पत्र दिए जाने के बाद भी निगम प्रशासन उनकी मांगों पर ध्यान नहीं दे रहा हैं। कोरोना काल के समय अपनी जान जोखिम में डाल पंप ऑपरेटरों ने शहर के जलापूर्ति को चालू रखा। लेकिन दो साल बीतने को है। इसके बावजूद उन्हें प्रोत्साहन राशि नहीं दिया गया। हड़ताल करने पर कर्मियों पर मुकदमा करा दिया जाता है। 

उन्होंने कहा की हमलोगों की मांग है कि कर्मियों पर दर्ज मुकदमा को वापस लिया जाए। बार बार नगर आयुक्त से मिलकर अपनी मांगों को लेकर ज्ञापन सौंप चुके है। लेकिन अधिकारी मांगो पर कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं। अगर जल्द से जल्द मांगो को पूरा नहीं किया गया तो हमलोग सभी कामों को ठप्प कर देगें। जिसकी जिम्मेवारी नगर निगम के अधिकारियों की होगी।

कर्मियों ने बताया की सफाई कर्मियों की संख्या लगभग 575 है। जबकि पंप ऑपरेटर 136 है। सभी हड़ताल पर जाने को बाध्य हो जायेगें।  इस मौके पर सचिव मनोज रविदास, रामप्रीत केवट, रूकसाना खातून, अनवरी खातून, विशाल डोम, सूरज डोम , करण कुमार, सुनील दास, सूरज दास, राजन दास, संजय कुमार मौजूद थे।

नालंदा से राज की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News