एक्शन में सीएम योगी : 8 अफसर सस्पेंड, 2 डीएम सहित कई अफसरों से सीएम ने मांगा जवाब

एक्शन में सीएम योगी :  8 अफसर सस्पेंड, 2 डीएम सहित कई अफसरों से सीएम ने मांगा जवाब

NEWS4NATION DESK : इनदिनों यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ पूरे एक्शन में है। एक ओर जहां प्रदेश में लॉ एंड ऑर्डर और भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने के लिए कई बड़ी कार्रवाईया की है। वहीं गोवंश की रक्षा को लेकर सीएम ने बड़ी कार्रवाई की है। 

प्रयागराज, अयोध्या औरमिर्जापुर की गौशालाओं में गायों की मौत के मामले मेंसीएम योगी ने सख्त कार्रवाई की है। इस मामले को लेकर आठ अफसरों को सस्पेंड कर दिया है साथ ही अयोध्या और मिर्जापुर के डीएम सहित कई अफसरों से जवाब तलब किया गया है। 

मुख्यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ के आदेश के बाद अयोध्या के पांच और मिर्जापुर के तीन अफसरों को सस्पेंड कर दिया गया। इनमें यशोवर्धन सिंह (बीडीओ मिल्कीपुर), डॉक्‍टर श्रीकृष्ण (उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, मिल्कीपुर), इच्छाराम प्रियदर्शी (ग्राम पंचायत अधिकारी, पलियामाफ़ी, मिल्कीपुर, डॉ उपेंद्र कुमार (कांजी हिउसे प्रभारी अयोध्या), डॉक्‍टर विजेंद्र कुमार (गोशाला प्रभारी अयोध्या), डॉक्‍टर एके सिंह (मुख्य चिकित्साधिकारी मिर्जापुर), मुकेश कुमार (अधिशासी अधिकारी मिर्जापुर नगर पालिका) और रामजी उपाध्याय (अभियंता मिर्जापुर नगर पालिका) के नाम शामिल हैं। 

रविवार शाम वीडियो कॉन्‍फ्रेंसिंग के जरिए सीएम योगी ने जिलाधिकारियों से अयोध्या, प्रयागराज और मिर्जापुर के मंडलायुक्तों को निर्देश दिया है कि अन्य जिम्मेदारों के खिलाफ कार्रवाई करें। वहीं इस दौरान मुख्यमंत्री ने अफसरों को जमकर फटकार लगाई। 

सीएम ने कहा कि अगर अफसरों की लापरवाही से गोवंशों की मौत हुई तो दोषियों के खिलाफ गोवध निवारण अधिनियम और पशु क्रूरता अधिनियम के तहत कार्रवाई की जाएगी।  सीएम योगी के सख्त रुख के बाद मिल्कीपुर (अयोध्या) के बीडीओ और उप मुख्य चिकित्सा अधिकारी, पलियामाफी के ग्राम पंचायत अधिकारी, अयोध्या नगर निगम के कांजी हाउस प्रभारी के साथ आवास विकास अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि वे अर्जुनगंज, शहीद पथ और शहर के अन्य हिस्सों से निराश्रित गोवंशों को हटाकर कान्हा उपवन में रखने की व्यवस्था करवाएं। 

Find Us on Facebook

Trending News