CM का काफिला रोकने पर मचा बवाल, DC और SSP से मांगा गया जवाब, 200 लोगों पर FIR

CM का काफिला रोकने पर मचा बवाल, DC और SSP से मांगा गया जवाब, 200 लोगों पर FIR

रांची। उपद्रवियों द्वारा झारखंड के सीएम का काफिला रोके जाने को सरकार ने गंभीरता से लिया है। मामले को सुरक्षा में बड़ी चूक मानते हुए अब रांची के उपायुक्त और एसएसपी को शो कॉज कर जवाब मांगा है। साथ ही इस पूरे मामले की जांच के लिए उच्च स्तरीय कमिटी भी गठित कर दी गई है। 

बता दें कि सोमवार को झारखंड मंत्रालय से लौट रहे मुख्यमंत्री के काफिले को हरमू रोड स्थित किशोरगंज में उपद्रवियों ने रोकने की कोशिश की थी। इसके बाद सुरक्षाकर्मियों ने तत्परता दिखाते हुए वैकल्पिक मार्ग से मुख्यमंत्री के काफिले को निकाला था। जिसमें रांची में हरमू रोड स्थित किशोरगंज में मुख्यमंत्री के काफिले को रोकने की कोशिश व उपद्रव मामले में राज्य सरकार ने रांची के डीसी छवि रंजन व एसएसपी सुरेंद्र कुमार झा को शो-कॉज किया है। 

200 से ज्यादा लोगों पर एफआईआर

सीएम का काफिला रोकने और उपद्रव मामले में अबतक 30 लोगों को गिरफ्तार किया गया है। वहीं 65 नामजद सहित 150 पर सुखदेवनगर थाने में एफआइआर दर्ज की गई है। 50 से ज्यादा संदिग्‍धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। 

यह है सीएम के विरोध का कारण

नव वर्ष पर रांची मे ओरमांझी के जंगलों में एक युवती की नग्न हालत में सिर कटी लाश बरामद की गई थी। मौके पर सिर्फ धड़ बरामद किया गया था। जबकि हत्यारों ने सिर गायब कर दिया है। ताकि युवती की पहचान न हो सके। इस दर्दनाक घटना ने झारखंड में राजनीतिक बवाल मचा दिया है। सीएम सोरेन के काफिले को रोकने की मुख्य वजह इसी को बताया जा रहा है। इधर ओरमांझी में युवती की दुष्कर्म- सिर काटकर हत्या मामले की जांच के लिए डीएसपी सिल्ली के नेतृत्व में एसआइटी गठित कर दी गई है। युवती की पहचान करने व हत्यारों का सुराग देने वालों के लिए इनाम की राशि पुलिस ने 25 हजार से बढ़ाकर 50 हजार रुपये कर दी है।







Find Us on Facebook

Trending News