बिग ब्रेकिंग - सीएम नीतीश बीजेपी नेताओं को रावण वध के दौरान मंच पर नहीं देख पड़े अचरज में, आगे क्या हुआ पढ़ लीजिये…

बिग ब्रेकिंग - सीएम नीतीश बीजेपी नेताओं को रावण वध के दौरान मंच पर नहीं देख पड़े अचरज में, आगे क्या हुआ पढ़ लीजिये…

PATNA : जदयू बीजेपी नेताओं के बीच चल रहे जुबानी जंग के बीच राजनीतिक रिश्ता और तब तंग हो गया, जब गांधी मैदान में रावण वध के दौरान मंच पर पूर्व से आमंत्रित बीजेपी नेताओं ने बगैर कोई सूचना के शिरकत नहीं की।

सूत्रों की मानें तो सीएम नीतिश कुमार स्वयं बीजेपी नेताओं को मंच पर उपस्थित नहीं देखकर अचरज में पड़ गए। हालांकि उस दौरान उन्होंने किसी से पूछने की जहमत नहीं नहीं उठाई की सुशील मोदी सहित बीजेपी के तमाम नेता क्यों नहीं आए। यहां तक कि राज्यपाल ने भी इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम में शिरकत नहीं किया।

बता दें कि कल रावण वध के कार्यक्रम के दौरान मंच पर बिहार के गवर्नर, डिप्टी सीएम सुशील मोदी और मंत्री नंदकिशोर यादव को मंच पर उपस्थित रहना था, लेकिन ऐन मौके पर इन तीनों में से कोई भी रावण वध समारोह के दौरान नहीं दिखा।

रावण वध के दौरान बीजेपी नेताओं का बगैर सूचना दिए उपस्थित नहीं होना राजनीतिक गलियारे में चर्चा का विषय बना हुआ है।

गौरतलब है कि बीजेपी जदयू नेताओं के बीच लगातार एक दूसरे पर तीखी टिप्पणियों का दौर जारी है। इस बीच सुशील मोदी से लेकर नंदकिशोर तक का कार्यक्रम में शामिल नहीं होना आग में घी डालने की तरह काम किया है।

सूत्रों की मानें तो सीएम नीतीश भी बीजेपी नेताओं के नहीं आने से अचरज में थे, खासकर सुशील मोदी का नहीं आना ज्यादा खल रहा था। वहां पर उपस्थित लोगों ने बताया कि कार्यक्रम की समाप्ति के बाद आयोजक के पास जदयू के एक बड़े नेता का फोन आया। 

वो जानना चाह रहे थे कि बीजेपी नेताओं ने क्या आयोजक को कोई वजह पहले से बताई थी या फिर नहीं आने का क्या कारण है। सूत्रों की माने तो आयोजक को भी बीजेपी नेताओं के द्वारा नहीं आने की कोई सूचना नहीं दी गयी थी। उन्हें अंतिम समय तक बीजेपी नेताओं की तरफ से कहा गया था कि आ रहे हैं, लेकिन ऐसा हुआ नहीं। आयोजक भी बीजेपी नेताओं के इस कदम से खुद अनभिज्ञ हैं और आश्चर्यचकित भी।

विवेकानन्द की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News