सीएम नीतीश दे रहे हैं दावत-ए-इफ्तार, तेजस्वी-राबड़ी ने कर लिया न्योता स्वीकार, किधर जा रही है सियासी बयार

सीएम नीतीश दे रहे हैं दावत-ए-इफ्तार, तेजस्वी-राबड़ी ने कर लिया न्योता स्वीकार, किधर जा रही है सियासी बयार

पटना. बिहार में दावत-ए-इफ्तार की सियासत पूरे जोरों पर है. इसी क्रम में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी राज्य के प्रमुख राजनीतिक दलों और मुस्लिम संगठनों के प्रतिनिधियों को 28 अप्रैल को इफ्तार पार्टी दे रहे हैं. पिछले दिनों राजद की ओर से नेता प्रतिपक्ष राबड़ी देवी के आवास पर आयोजित इफ्तार में शामिल होकर नीतीश कुमार ने सबको चौंका दिया था. अब माना जा रहा है कि सीएम नीतीश की इफ्तार पार्टी में भी पक्ष और विपक्ष के कई राजनेताओं का जुटान होगा. 

नीतीश कुमार की पार्टी जदयू एनडीए में घटक दल है. ऐसे में सबकी निगाह इस पर भी रहेगी कि भाजपा के कौन से नेता नीतीश के यहां इफ्तार में आते हैं. वहीं विपक्ष के नेताओं में कौन कौन शामिल होते हैं यह भी बेहद महत्वपूर्ण होगा. सूत्रों की मानें तो नीतीश कुमार की ओर से राबड़ी देवी, तेजस्वी यादव, तेज प्रताप यादव सहित राजद के सभी बड़े नेताओं को इफ्तार का न्योता भेजा गया है. माना जा रहा है कि राजद खेमे से बड़ी संख्या में नेताओं का जमावड़ा नीतीश कुमार के यहां लग सकता है. 

हालांकि सबकी नजर चिराग पासवान और मुकेश सहनी पर ही होगी. दरअसल दोनों ही नेताओं का हाल के समय में एनडीए में रहने के बाद भी कभी भाजपा तो कभी जदयू के साथ मनमुटाव जगजाहिर है. सूत्रों का कहना है कि नीतीश कुमार की ओर से बुधवार दोपहर तक दोनों नेताओं को निमंत्रण नहीं भेजा गया है. हालांकि संभव है कि देर शाम तक दोनों को न्योता मिल जाएगा. 

दरअसल दावत-ए-इफ्तार से नए सियासी दांवपेच की चर्चा जोरो पर है. हाल के दिनों में राजद की ओर से बिहार में सत्ता परिवर्तन को लेकर कई प्रकार की बयानबाजी हुई है. वहीं राष्ट्रपति चुनाव के नाम पर भी अलग अलग प्रकार की कयासबाजी जारी है. वहीं भाजपा को बोचहां विधानसभा उपचुनाव में मिली हार के बाद एनडीए में अंदरूनी अंतर्कलह को लेकर भी कई प्रकार की बातें की जा रही है. ऐसे इफ्तार के नाम पर कौन सी सियासी खिचड़ी पकती है जिसका दूरगामी असर बिहार की राजनीति पर होगा यह बेहद महत्वपूर्ण होगा. 


Find Us on Facebook

Trending News