सीएम नीतीश के सामने बीजेपी ने डाल दिए हथियार! आरएसएस लेटर विवाद से बचने के लिए शिवराज सिंह चौहान ने रद्द कर दी पीसी

सीएम नीतीश के सामने बीजेपी ने डाल दिए हथियार! आरएसएस लेटर विवाद से बचने के लिए शिवराज सिंह चौहान ने रद्द कर दी पीसी

पटनाः मध्यप्रदेश के पूर्व सीएम और बीजेपी सदस्यता अभियान के राष्ट्रीय प्रभारी शिवराज सिंह चौहान पटना में आयोजित अपनी प्रेस कांफ्रेंस को अचानक रद्द कर दी है।खबर है कि वे आरएसएस लेटर विवाद से जुड़े सवालों से बचने के लिए प्रदेश दफ्तर में आयोजित पीसी को रदद् किया है।

पार्टी की सदस्यता अभियान की समीक्षा के क्रम में आज वे पटना में थे। प्रदेश कार्यालय में  सदस्यता अभियान की समीक्षा बैठक के बाद प्रेस कांफ्रेंस आयोजित की गई थी।शिवराज सिंह चौहान ने पार्टी नेताओं के साथ बैठक की.उसके पहले उन्होंने कई लोगों को पार्टी में शामिल भी कराया।दोपहर बाद साढ़े तीन बजे प्रेस कांफ्रेंस आयोजित थी।लेकिन उन्होंने बिना वजह बताए अपनी प्रेस कांफ्रेंस को रद्द कर दिया।नियत समय पर जब पत्रकार प्रेस कांफ्रेंस में पहुंचे तब पता चला कि शिवराज सिंह चौहान ने पीसी को रद्द कर दिया है।हालांकि पीसी क्यों रद्द किया गया यह बताने के लिए बीजेपी का कोई नेता तैयार नहीं था। सभी नेता इस सवाल का जवाब देने से बचते रहे कि आखिर अचनाक प्रेस कांफ्रेंस क्यों रद्द कर दी गई..

बिहार बीजेपी के प्रदेश दफ्तर में भी पार्टी के कई नेता यह कहते दिखे कि कहीं न कहीं आरएसएस लेटर विवाद की वजह से हीं शिवराज सिंह चौहान ने प्रेस कांफ्रेंस रद्द की है।

जानकार बताते हैं कि बीजेपी अब पूरी तरह से आरएसएस लेटर विवाद से बचना चाहती है।पार्टी के नेता अब नीतीश सरकार द्वारा आरएसएस की कुंडली खंगालने वाले पत्र पर बोलने से बच रहे।शिवराज सिंह ने पहले तो प्रेस कांफ्रेंस करने का एलान किया।लेकिन पार्टी को लगा कि प्रेस कांफ्रेंस में नीतीश सरकार द्वारा आरएसएस नेताओं की कुंडली खंगालने वाली पत्र का मुद्दा जरूर उठेगा।उस पत्र पर जवाब देना खतरे से खाली नहीं होगा।क्यों कि शिवराज सिंह चौहान के लिए आगे कुआं पीछे खाई वाली स्थिति हो जाती। अगर पत्र को जायज ठहराते तो उका बयान संगठन के खिलाफ हो जाता ।अगर बिहार सरकार के पत्र के विरोध में बोलते तो नीतीश सरकार के खिलाफत वाली बात हो जाती।लिहाजा उन्होंने पीसी रद्द करने में हीं अपनी भलाई समझी। 

Find Us on Facebook

Trending News