बिहार की बिगड़ी कानून-व्यवस्था पर CM नीतीश सख्त,कहा- सिर्फ थाना लेवल के अफसरों पर ही नहीं बल्कि बड़े अधिकारियों पर होगा एक्शन

बिहार की बिगड़ी कानून-व्यवस्था पर CM नीतीश सख्त,कहा- सिर्फ थाना लेवल के अफसरों पर ही नहीं बल्कि बड़े अधिकारियों पर होगा एक्शन

PATNA:बिहार में अपराधियों में पुलिस का खौफ खत्म हो गया है। इधर सीएम नीतीश लगातार लॉ एंड ऑर्डर पर हाईलेवल मीटिंग कर रहे लेकिन नतीजा सिफर ही रह रहा है। 10 दिनों में मुख्यमंत्री ने दूसरी दफे बैठक की और अधिकारियों को कड़े निर्देश दिये। मुख्यमंत्री ने आज एक बार फिर से हाईलेवल मीटिंग की और विधि-व्यवस्था की समीक्षा की।

सीएम नीतीश ने डीजीपी व गृह सचिव को स्पष्ट लहजे में कहा कि पेट्रोलिंग में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। आखिर पुलिस गश्त चुस्त क्यों नहीं है।सीएम नीतीश ने साफ-साफ कहा कि सिर्फ छोटे अधिकारियों पर ही नहीं बल्कि लापरवाह बड़े अधिकारियों पर भी एक्शन लें। अगर कही अपराध होता है तो थाने के अधिकारियों पर ही कारवाई नहीं होगी बल्कि बड़े अधिकारी भी इसके लिए ज़िम्मेदार माने जाएंगे और उन पर भी एक्शन होगा। मीटिंग में सीएम नीतीश ने यह भी पूछा कि आखिर अपराध बढ़ने की वजह क्या है? 


सीएम नीतीश ने अफसरों से कहा कि पुलिस नई तकनीक पर फोकस करे।जांच में नई तकनीक का उपयोग करें साथ ही अपराधियों को स्पीडी ट्रायल करा कर सजा दिलाने का प्रयास करिये। सीएम नीतीश ने एक बार फिर से अधिकारियों को निर्देश दिया कि भूमि विवाद क्राइम की एक बड़ी वजह है लिहाजा भूमि विवाद मामले में डीएम-एसपी पहल करें और बैठक कर इसका समाधान निकालें। 

इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने यह भी निर्देश दिया कि पेशेवर अपराधियों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कठोर कदम उठाएं. जिन थाना क्षेत्रों में क्राइम बढ़े हैं उनकी समीक्षा कर लापरवाहअधिकारियों पर एक्शन लें. जिओ फेसिंग तकनीक से गश्ती की निगरानी सुनिश्चित करें. ट्रैफिक जाम की समस्या के समाधान के लिए आवश्यक कार्यवाही करें, ताकि आवागमन में किसी प्रकार की समस्या न हो. मुख्यमंत्री ने 5 घंटे तक हाई लेवल मीटिंग कर अफसरों को साफ-साफ कह दिया कि क्राइम कंट्रोल में कोताही बर्दाश्त नहीं की जाएगी.

Find Us on Facebook

Trending News