कर्पूरी जयंती समारोह में बोले सीएम नीतीश, बिहार की तर्ज पर केन्द्र में भी हो अतिपिछड़ों के लिए अलग आरक्षण

कर्पूरी जयंती समारोह में बोले सीएम नीतीश, बिहार की तर्ज पर केन्द्र में भी हो अतिपिछड़ों के लिए अलग आरक्षण

PATNA :  बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा है कि बिहार की तर्ज पर केन्द्र में  भी अतिपिछड़ा के लिए अलग से आरक्षण लागू होना चाहिए। पटना के एसकेएम हॉल में जेडीयू द्वारा आयोजित कर्पूरी जयंती समारोह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने अपने विरोधियों पर जमकर भड़ास निकाली। सीएम नीतीश ने कहा कि सत्ता लोगों को सेवा के लिए होती है, लेकिन कुछ लोग सत्ता में आकर जनता की सेवा करना छोड़ अपनी संपत्ति बनाने में लग जाते हैं। उन्होंने ऐसे लोगों से सावधान रहने की अपील की। 

जातीय जनगणना का समर्थन

समारोह को संबोधित करते हुए सीएम नीतीश ने जाति आधारित जनगणना का समर्थन किया । नीतीश ने कहा कि जातिगत जनगणना से कई समस्याएं दूर हो जाएगी। उन्होंने कहा कि आरक्षण की सीमा 50 प्रतिशत ही रहे जरूरी नहीं है। आखिर कब तक ये नियम 50 प्रतिशत तक ही बना रहेगा।उन्होंने कहा कि जातिगत जनगणना के बाद बदलाव होगा और मेरा मानना है कि आरक्षण 50 प्रतिशत से बढ़ सकता है।

कुछ लोग आरक्षण को लेकर भ्रम फैला रहे

सीएम नीतीश ने कहा कि केंद्र में भी अतिपिछड़ा आरक्षण बिहार की तर्ज पर लागू किया जाए। उन्होंने कहा कि बिहार में EBC और OBC को अलग से आरक्षण मिलता है केंद्र में भी EBC और OBC प्रणाली लागू होनी चाहिए। नीतीश ने सवर्ण आरक्षण पर लोगों को सचेत किया और कहा कि कुछ लोग सवर्ण आरक्षण पर भ्रम फैला रहे हैं।उन्होंने कहा कि सत्ता के लिए कुछ लोग भ्रम फैलाने में लगे हैं। किसी को भ्रम में रहने की जरूरत नहीं है। उन्होंने कहा कि सवर्ण आरक्षण मिलने से पहले के आरक्षण पर कोई फर्क नहीं पड़ेगा।

विरोधियों पर निशाना

कर्पूरी जयंती समारोह में सीएम नीतीश ने अति पिछड़ों के लिए सरकार की योजनाओं को गिनाया। नीतीश ने इस दौरान अपने विरोधियों पर भी निशाना साधा और कहा किआज लोग वोट के लिए घृणा पैदा कर रहे हैं। समाज के अंदर तनाव फैला रहे हैं लेकिन लोग ये जान लें कि नीतीश कुमार को वोट की चिंता नहीं है। हम सिर्फ अपना काम करना जानते हैं। उन्होंने कहा कि कुछ लोग सत्ता में आने के लिए और कुर्सी पर बैठने के लिए सिर्फ बात करते रहते हैं।

Find Us on Facebook

Trending News