दोस्त को दिया वचन निभाने के लिए सीएम नीतीश पहुंचे मोतिहारी, श्राद्धकर्म में हुए शामिल

दोस्त को दिया वचन निभाने के लिए सीएम नीतीश पहुंचे मोतिहारी, श्राद्धकर्म में हुए शामिल

MOTIHARI : मित्रता को निभाने के लिए आज मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पूर्वी चम्पारण के बलवा कोठी गांव पहूंचे.  जहां वे मित्र दारोगा पाण्डेय के श्राद्धकर्म में शामिल होकर उनकी आत्मा की शान्ति के लिए के लिए प्रार्थना किया. दरअसल अपनी सेवा यात्रा के दौरान मुख्यमंत्री 2007 में चकिया के मधुआहा पंचायत के बलवा गांव में रात्रि विश्राम किया था. सुबह में गांव भ्रमण के दौरान वयोवृद्ध दारोगा पाण्डेय से उनकी मुलाकात हो गयी.  

मुख्यमंत्री उनके बातों से प्रभावित हुए और दारोगा पाण्डेय घर जाकर दही चूड़ा से नाश्ता किया था. जिसके बाद से दोस्ती गहराने लगी. नीतीश कुमार 2017 में भी अपने यात्रा के दौरान दारोगा पाण्डेय के घर गये थे. इसी दौरान मुख्यमंत्री से उन्होंने वचन लिया था कि निधन पर वे दारोगा पाण्डेय के श्राद्धकर्म में जरुर भाग लेगें.  

2017 में दिये वचन को निभाने के लिए आज मुख्यमंत्री दारोगा पाण्डेय के घर पहूंचे और उनके श्राद्धकर्म में हिस्सा लिया. इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने उनके परिजनों से मिले और हर सुख-दुख में सहयोग करने का आश्वासन दिया है. 

मुख्यमंत्री के जाने के बाद दारोगा पाण्डेय के दत्तक पुत्र नागेश्वर पाण्डेय ने कहा कि मुख्यमंत्री ने दारोगा पाण्डेय के नाम से गांव में एक अस्पताल के निर्माण की स्वीकृति दिया है. वहीं पीपरा के भाजपा विधायक श्यामबाबू यादव ने कहा कि मुख्यमंत्री ने बलवा गांव आकर कृष्ण सुदामा की दोस्ती की मिशाल पेश किया है. इसके लिए उन्होंने पीपरा विधानसभा क्षेत्र की ओर से मुख्यमंत्री के प्रति आभार जताया है. 

मोतिहारी से हिमांशु की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News