रघुवंश बाबू ने जीवन के अंतिम क्षण में CM नीतीश से की थी गुजारिश, मुख्यमंत्री ने भेजा था यह जवाब...

रघुवंश बाबू ने जीवन के अंतिम क्षण में CM नीतीश से की थी गुजारिश, मुख्यमंत्री ने भेजा था यह जवाब...

PATNA: बिहार के प्रसिद्ध समाजवादी नेता रघुवंश बाबू का आज निधन हो गया है .निधन से 3 दिन पहले रघुवंश सिंह ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखा था. पत्र में वैशाली के विकास की बात थी. आज उनके निधन के बाद पीएम मोदी ने सीएम नीतीश को सलाह दी कि अपने जीवन के अंतिम क्षणों में रघुवंश बाबू ने विकास को लेकर जो पत्र लिखे हैं उस पर अमल करने की जरूरत है.

इसके बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की तरफ से यह बताया गया है कि उनके पत्र का जवाब 11 सितंबर को ही दिया गया था. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने रघुवंश बाबू को लिखे पत्र में कहा है कि भगवान बुद्ध के काबुल संग्रहालय अफगानिस्तान में रखे पवित्र भिक्षा-पात्र को वैशाली लाने के लिए कार्रवाई करने के संबंध में अनुरोध पत्र आपका प्राप्त हुआ. पूर्व में भी आपने वैशाली की मिट्टी स्तूप से 1950 के दशक में उत्खनन के दौरान मिले भगवान बुद्ध की पवित्र अस्थि अवशेष जो अभी पटना संग्रहालय में प्रदर्शित है, को वैशाली में रखने का अनुरोध किया था. राज्य सरकार द्वारा भगवान बुद्ध की पवित्र अस्थि अवशेष को वैशाली में प्रदर्शित करने के लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर के बुद्ध सम्यक दर्शन संग्रहालय स्मृति स्तूप की योजना क्रियान्वित की जा रही है. राज्य सरकार द्वारा करीब 300 करोड़ की लागत से बनने वाले इस संग्रहालय के पूर्ण होने पर भगवान बुद्ध के पवित्र अवशेष को गरिमा पूर्ण तरीके से वैशाली में ही प्रदर्शित किया जाएगा.

नीतीश कुमार ने अफने पक्ष में आगे उल्लेख किया है कि आपने जो पत्र लिखकर अनुरोध किया है, उस आलोक में राज्य सरकार काबुल संग्रहालय में प्रदर्शित भगवान बुद्ध की पवित्र भिक्षा-पात्र को वैशाली वापस लाने के लिए केंद्र सरकार से आवश्यक कदम उठाने का अनुरोध करेगी.

Find Us on Facebook

Trending News