CM साहब! हम कैसे जिंदा रहें.... वृद्ध फरियादी ने रोते हुए कहा- जमीन हमारी और हमारे बेटे को ही पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया

CM  साहब! हम कैसे जिंदा रहें.... वृद्ध फरियादी ने रोते हुए कहा- जमीन हमारी और हमारे बेटे को ही पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया

PATNA:  मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का जनता दरबार शुरू हो गया है। नवंबर महीने के प्रथम सोमवार को मुख्यमंत्री गृह,पुलिस,सामान्य प्रशासन,जमीन व अन्य विभाग से जुड़ी शिकायतों को सुन रहे। एक वृद्ध ने सीएम नीतीश से कहा कि हमारी जमीन और हमारे बेटे को ही पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेज दिया। यह कहकर वृद्ध फरियादी रोने लगे। 

रोने लगे एक वृद्ध फरियादी

इस पर मुख्यमंत्री ने पूछा कि जमीन आपकी है? फरियादी ने कहा कि -हां। इस पर मुख्यमंत्री ने वृद्ध फरियादी को डीजीपी के पास भेजा और कहा कि डीजीपी इस मामले को देखेंगे। वहीं बेतिया से आये एक युवक ने कहा कि हमारे पिता पुलिस में थे। सेवा के दौरान उनकी मृत्यु हो गई। मौत के बाद हमें अनुकंपा पर नौकरी नहीं दी जा रही। पुलिस विभाग की तरफ से जानकारी दी गई कि आपके 2-2 भाई नौकरी में हैं इसीलिए आपको अनुकंपा पर नौकरी नहीं दी जा सकती। इस पर मुख्यमंत्री ने डीजीपी को फोन लगाकर कहा कि जब अनुकंपा पर नौकरी दी जाती है तो इस युवक को नौकरी क्यों मिली? अगर कोई तकनीकी बाधा है तो देखना पड़ेगा। 


Find Us on Facebook

Trending News