कॉलेज प्रशासन की मनमानी, कोर्ट और शिक्षा पदाधिकारी के आदेश को दरकिनार कर बांट दी अनुदान की राशि

कॉलेज प्रशासन की मनमानी, कोर्ट और शिक्षा पदाधिकारी के आदेश को दरकिनार कर बांट दी अनुदान की राशि

Nawada  : जिले से एक बड़ी खबर सामने आई है। जहां गंगा रानी सिंहा कॉलेज प्रशासन ने कोर्ट और शिक्षा प्राधिकारी के आदेश की खुलेआम अवहेलना की है। कॉलेज प्रशासन ने कोर्ट और जिला शिक्षा पदाधिकारी के आदेश को दरकिनार करते हुए में शिक्षकों और कर्मचारियों के बीच अनुदान की राशि का वितरण कर दिया है। 

दरअसल कॉलेज के स्टाफ रीता कुमारी, रवि शंकर पटेल, श्वेता कुमारी, अनिता कुमारी, लालेंद्र चौधरी ने पिछले बार की अनुदान राशि वितरण में गड़बड़ी का आरोप लगाते हुए इस मामले को कोर्ट तक ले गए थे। जिसपर सुनवाई के बाद प्राधिकार आदेश देकर इस संबंध में जिला शिक्षा पदाधिकारी को निर्णय लेने का निर्देश दिया था। 

प्राधिकारी के आदेश पर जिला शिक्षा पदाधिकारी के द्वारा ज्ञापांक 866 दिनांक 4.8.2020 जारी करते हुए कॉलेज प्रशासन को अनुदान वितरण पर फिलहाल रोक लगाने को कहा था, लेकिन इस आदेश को दरकिनार करते हुए कॉलेज प्रशासन के द्वारा राशि का वितरण कर दिया गया है। 

इसकी शिकायत करते हुए आवेदक रीता कुमारी, रविशंकर पटेल तथा अन्य आवेदन कर्ताओं ने कहा कि जिला मुख्यालय के गंगा रानी सिन्हा कॉलेज में वर्ष 2012-14 के अनुदान की राशि को गलत तरीके से वितरण करने की शिकायत की गयी थी। 

जिसे न्यायालय और जिला शिक्षा पदाधिकारी ने सही पाया है. कॉलेज में कार्यरत प्रायोगशाला सहायक अनीता कुमारी के अलावे रविशंकर पटेल, श्वेता आनंद, लालेन्द्र चौधरी, रीता कुमार आदि ने आवेदन देकर कहा था कि 2013 में अनुदान का वितरण सृजित पद को छोड़कर असृजित पद पर कार्यरत कर्मचारियों के बीच कर दिया गया।

इस बार आये आवंटन को फिर से गलत तरीके से वितरण करने की संभावना है। शिकायत कर्ताओं के आवेदन पर विचार करते हुए अधिकारियों के द्वारा आवंटन फिलहाल नहीं बांटने का आदेश दिया गया, लेकिन कॉलेज प्रशासन के द्वारा इस आदेश का पालन नहीं करते हुए मनमाने ढंग से फिर से इन कार्यरत कर्मचारियों को अरिजीत पद बताकर इनको अनुदान की राशि से वंचित रखा गया है। वहीं आवेदन करने वाले कर्मचारियों ने कहा कि इस मामले को दोबारा कोर्ट में लेकर जाएंगे। 

नवादा से अमन सिन्हा की रिपोर्ट


Find Us on Facebook

Trending News