भाई की हत्या के आरोपियों के खिलाफ की थी शिकायत, पुलिस ने हत्यारे को पकड़ने की जगह युवक को ही जेल में डाल दिया

भाई की हत्या के आरोपियों के खिलाफ की थी शिकायत, पुलिस ने हत्यारे को पकड़ने की जगह युवक को ही जेल में डाल दिया

SUPOUL : वर्दी के हनक में चूर जदिया थाना प्रभारी अपराधी और हत्यारों के शिकंजा कसने की सिवाय अब आम आदमी पर शिकंजा सकते नजर आ रहे हैं, ताजा मामला जिले के जदिया थाना अंतर्गत कोरियापट्ट पुरव से आ रही है जहां हत्यारों के खिलाफ मुकदमा लड़ने वाले युवक मोहम्मद राजा पिता मोहम्मद कामील राजगांव निवासी को गिरफ्तार कर लिया। 

बताया गया कि पुलिस ने यह कार्रवाई एक साल पुराने मामले में की है। एक साल पहले युवक का चचेरा  भाई गांव की युवती को शादी करने के नियत से लेकर फरार हो गया था, जिसमें युवती के पिता मोहम्मद सुल्तान ने थाने में 23 अगस्त 2020 को 155/2020  जदिया थाना में दर्ज कराई जिसमें राजा समेत 10 लोगों को नामजद किया था। हालांकि बाद में युवती खुद कोर्ट में पहुंची और अपने बयान में खुद को बालिक बताते हुए कहा कि वह अपनी मर्जी से घर से गई थी। उसने बताया था कि मेरे परिवार के लोग मेरी शादी के खिलाफ थे, जिसके कारण वह छोड़कर गई थी। इस घटना के बाद युवती के पिता ने बेटी की शादी उसके पंसद के लड़के से करने को लेकर अपनी रजामंदी भी दे दी। लेकिन घर जाने की जगह वह उसे दिल्ली लेकर चले गए। इस दौरान युवती ने बयान दिया कि उसने अररिया कोर्ट में शादी कर ली है। इस शादी में गवाह के तौर पर प्रेमी के भाई मोहम्मद रेहान नाम के होने की बात कही गई। 


दिसंबर में रेहान की हो गई हत्या

कुछ दिन मामला शांत रहा। उसके बाद राजा के भाई मृतक मोहम्मद रेहान को गांव ही कुछ लोग  4 दिसम्बर 2020 को मांस बनाने के नाम पर घर से ले गये, जबकि मृतक मोहम्मद रेहान बुच्चर का काम करते थे। एक दिन बाद पता चला कि मोहम्मद रेहान उर्फ टिप् की शव अररिया जिले के नरपतगंज थाना क्षेत्र अन्तर्गत  मिरदोल गांव मे होनी की जानकारी मिली। जिसके बाद परिवार के लोग घटना स्थल पर पहुंच कर पहचान किया। उसके बाद नरपतगंज पुलिस ने मोहम्मद रेहान उर्फ टिप् को शव अपनें कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराकर उनके परिजनों सौंप दिया, वहीं मृतक भाई मोहम्मद राजा के बयान के आधार पर अररिया जिले के नरपतगंज थाना कांड संख्या 534/2020 दर्ज कराया था। इस शिकायत में मृतक के भाई ने मोहम्मद सुल्तान सहित अभिजीत यादव व उसके साले, मो. जलील, मो. अमरुल, मो. सुल्तान के साले, विपिन कुमार यादव को आरोपी बनाया गया था। 

पुलिस ने नहीं की कोई कार्रवाई 

इस शिकायत के लगभग सात माह से अधिक का समय गुजर गया, लेकिन पुलिस ने किसी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की। इस दौरान सभी आरोपी खुलेआम घूमते रहे। अब गिरफ्तार युवक के पिता मोहम्मद कामील का कहना है हत्यारों ने पहले ही मेरे एक बेटे की जान ले ली है, अब दूसरे बेटे को सिर्फ इसलिए जेल भेजने की साजिश रची जा रही है क्योंकि उसने दोषियों के खिलाफ लगाए गए आरोपों को वापस लेने से इनकार कर दिया। पिता का आरोप है कि पुलिस हत्यारों के दबाव में काम कर रही है। 

मामले में जब थाना प्रभारी राजेश कुमार चौधरी से पूछा गया उन्होंने बताया कि लड़की के अपहरण मामले में मोहम्मद राजा को गिरफ्तार किया गया है। जबकि युवती खुद कोर्ट में यह बयान दे चुकी है कि वह अपनी मर्जी से गई थी, ऐसे में पुलिस ने युवती के बयान को भी दरकिनार कर दिया। जो कहीं न कहीं पुलिस के काम पर सवाल उठाती है। अब मामले में युवक के पिता ने वरीय पुलिस अधिकारियों से मदद की गुहार लगाई है।


Find Us on Facebook

Trending News