अमरनाथ यात्रा बंद होने का कांग्रेस पार्टी ने किया विरोध, कहा हिन्दुओं की आस्था को लगा धक्का

अमरनाथ यात्रा बंद होने का कांग्रेस पार्टी ने किया विरोध, कहा हिन्दुओं की आस्था को लगा धक्का

GAYA : कांग्रेस पार्टी ने अमरनाथ यात्रा बीच में ही बंद किये जाने का विरोध किया है. अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सदस्य सह बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी के क्षेत्रीय प्रवक्ता विजय कुमार मिट्ठू, बाबू लाल प्रसाद सिंह, राम प्रमोद सिंह, अभिषेक श्रीवास्तव, शिव कुमार चौरसिया, श्रीकांत शर्मा, सरवर खान, मो नवाब अली , राम प्रवेश सिंह आदि ने कहा कि अखंड  भारत के इतिहास में विगत 70 वर्षों में पहली बार केंद्र सरकार की ओर से ऐतिहासिक और पौराणिक अमरनाथ यात्रा बंद करने से करोड़ों हिन्दुओं की आस्था को गहरा धक्का लगा है. विदित हो कि इस वर्ष लगभग 1 लाख 75 हजार तीर्थयात्रियों ने 28 जून से 15 अगस्त तक चलनेवाले अमरनाथ यात्रा के लिए पंजीकरण कराया था. 

कांग्रेस नेताओ ने कहा की अगर स्पैनर और माइंस पकड़े गए है तो उसके आधार पर ये कार्रवाई शिवभक्तो को समझ में नहीं आती. पर्यटकों और छात्रों को हटाया जा रहा है. जबकि वहां स्थिति सामान्य है. इस एडवाइजरी से कश्मीर घाटी में डर और आशंका का माहौल है. क्या होने वाला है, इतनी दहशत क्यों फैलाया जा रहा है. 

वही नेताओं ने कहा की पूरे देश में कश्मीर से आर्टिकल 35A, और 370 हटाने की बातो की चर्चा जोरों पर है जो सन 1927 में हिन्दू महाराजा हरि सिंह ने यहां के लोगो के कहने पर यह निर्णय लिया कि कश्मीर के निवासी ही राज्य में जमीन खरीद सकते है या नौकरी मिलेगी. बाद में उस कानून को 35A का रूप दिया गया. जम्मू कश्मीर के अलावा उत्तराखंड, हिमाचल और उत्तर पूर्व के आठ राज्य में बाहर के लोग जमीन नहीं खरीद सकते. इनमें से कई राज्यो में भाजपा की सरकार है.

कांग्रेस नेताओ ने कश्मीर की हालत पर प्रधानमंत्री से संसद में वक्तव्य देने की मांग की है. उन्होंने कहा कि अभी जम्मू कश्मीर में करीब 20 हजार पर्यटक और 4 लाख बाहरी श्रमिक है. इस प्रकार के एडवाइजरी जारी होने से ये लोग बाजार, पेट्रोल पंप, एटीएम, मेडीकल स्टोर, जनरल स्टोर, बस अड्डा, एयरपोर्ट आदि जगहों की ओर दौड़ रहे हैं. 

गया से मनोज कुमार की रिपोर्ट  

Find Us on Facebook

Trending News