चौसा विवाद पर कांग्रेस अध्यक्ष डॉ अखिलेश प्रसाद सिंह ने बनाई तीन सदस्यीय जांच समिति, रिपोर्ट जल्द से जल्द सौंपने का निर्देश

चौसा विवाद पर कांग्रेस अध्यक्ष डॉ अखिलेश प्रसाद सिंह ने बनाई तीन सदस्यीय जांच समिति, रिपोर्ट जल्द से जल्द सौंपने का निर्देश

PATNA : बक्सर जिला के चौसा में निर्माणाधीन थर्मल पावर प्लांट के भू अधिग्रहण में किसानों व भू स्वामियों के आंदोलन में हुए मंगलवार को पुलिसिया बर्बरता और आगजनी व हिंसा के मामले पर बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष डॉ अखिलेश प्रसाद सिंह ने गम्भीरता से संज्ञान लेते हुए तीन विधायकों की जांच समिति का गठन किया है। 

इस जांच समिति में बक्सर सदर से कांग्रेस विधायक संजय कुमार तिवारी उर्फ मुन्ना तिवारी, राजपुर विधायक विश्वनाथ राम और औरंगाबाद विधायक आनन्द शंकर सिंह को शामिल किया गया है। 

जांच समिति को इस बात की जांच करके अविलंब रिपोर्ट प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ अखिलेश प्रसाद सिंह को सौंपने को निर्देशित किया गया है। प्रदेश कांग्रेस के मीडिया विभाग के चेयरमैन राजेश राठौड़ ने बताया कि बक्सर जिलान्तर्गत चौसा में निर्माणाधीन थर्मल पावर प्लांट के लिए जमीन अधिग्रहण के उचित मुआवजे की मांग पर 85 दिनों से धरना दे रहे किसानों के द्वारा जारी प्रदर्शन के क्रम में चौसा के बनारपुर गांव के किसानों के घरों में मंगलवार को आधी रात में पुलिस ने पुरूष, महिलाओं और बच्चों को लाठी-डंडे से बर्बर पिटाई की थी और इसके बाद तीन लोगों को उनके घर से पुलिस द्वारा हिरासत में ले लिया गया था। 

इस घटना के कारण स्थानीय किसानों ने आक्रोशित होकर पावर प्लांट को क्षतिग्रस्त किया। इस घटना की जाँच करने हेतु बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी द्वारा जाँच कमिटी गठन की गई है जो इस मामले की जांच कर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डॉ अखिलेश प्रसाद सिंह के समक्ष अविलंब रिपोर्ट जमा करेंगे।

Find Us on Facebook

Trending News