दलित-पिछड़ों को बरगलाना और उनका अपमान करना कांग्रेस-राजद की रही है परंपरा : बीजेपी

दलित-पिछड़ों को बरगलाना और उनका अपमान करना कांग्रेस-राजद की रही है परंपरा : बीजेपी

PATNA : बीजेपी ने कांग्रेस पर दलित विरोधी और उनका हमेशा अपमान किये जाने का आरोप लगाया है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा है कि दलित-पिछड़े नेताओं का अपमान करना, मंडल आयोग की रिपोर्ट का विरोध करना और ओबीसी संस्था को मजबूत बनाने में बाधा डालना कांग्रेस-आरजेडी जैसे दलों की विरासत व परंपरा रही है।

दरअसल भाजपा ओबीसी मोर्चा का राष्ट्रीय अधिवेशन पटना में 15-16फरवरी, 2019 को प्रस्तावित है। जिसे लेकर पार्टी प्रदेश कार्यालय में ' राष्ट्रीय ओबीसी मोर्चा अधिवेशन कैम्प कार्यालय' बनाया गया है। आज पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नित्यानंद राय ने इस कैंप कार्यालाय का उदघाटन किया। इस मौके पर जहां उन्होंने केन्द्र की मोदी सरकार की उपलब्धियां गिनाई, वहीं कांग्रेस और राजद पर जमकर बरसे।

नित्यानंद राय ने कहा कि भाजपा सबका साथ, सबका विकास में यकीन करती है और समाज के वंचित- शोषित वर्ग के कल्याण के लिए संकल्पित है। वहीं कांग्रेस और राजद समाज को बांटने और दलित-पिछड़ों को बरगलाकर उनका शोषण करती है। 

बिहार भाजपा अध्यक्ष ने कहा कि जिस साल सोनिया गांधी कांग्रेस से जुड़ीं, उसी साल तीसरे मोर्च की सरकार ने प्रमोशन में आरक्षण का विरोध किया। उनके पुत्र राहुल गांधी जब पार्टी अध्यक्ष बने तो कांग्रेस ने ओबीसी आयोग विधेयक का विरोध किया। यह महज संयोग नहीं हो सकता, यह कांग्रेस की पिछड़ों के खिलाफ बड़ी साजिश तो नहीं है?  

नित्यानंद ने कहा कि यह कैसा मज़ाक था कि पिछड़ा वर्ग आयोग तो तथाकथित तौर पर बना दिया गया, लेकिन उसे संवैधानिक दर्जा ही नहीं था। संशोधित बिल के जरिए SC/ST कानून को मजबूत करना, OBC आयोग को संवैधानिक दर्जा और सामान्य वर्ग के गरीबों को आरक्षण प्रधानमंत्री की विरासत में है, जबकि दलित- पिछड़े नेताओं का अपमान करना, मंडल आयोग की रिपोर्ट का विरोध करना और ओबीसी संस्था को मजबूत बनाने में बाधा डालना कांग्रेस-आरजेडी जैसे दलों की विरासत व परंपरा रही है।

विवेकानंद की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News