कोरोना जांच में गड़बड़ी पर सीएम नीतीश सख्त - अगर कोई दोषी हुआ तो नहीं छोड़ूंगा

कोरोना जांच में गड़बड़ी पर सीएम नीतीश सख्त - अगर कोई दोषी हुआ तो नहीं छोड़ूंगा

पटना। दो दिन के दिल्ली दौरे के बाद सीएम नीतीश कुमार पटना लौट आए हैं। पटना पहुंचते ही उन्होंने सबसे पहले कोरोना जांच में हुई गड़बड़ी को लेकर अपनी नाराजगी जाहिर की। मामले को लेकर बेहद गुस्से में दिखे नीतीश कुमार ने साफ कहा है कि अगर किसी प्रकार की गड़बड़ी साबित होती है, तो इसके लिए जो भी दोषी हो, उसे नहीं छोड़ूगा। हाल में ही एक अंग्रेजी अखबार ने यह दावा किया था कि बिहार में बिना जांच के ही कोरोना के फर्जी रिपोर्ट जारी किए गए। जिसके बाद से ही विपक्ष ने नीतीश कुमार पर अरबों रुपए के घोटाले के आरोप लगाने शुरू कर दिया है।

नीतीश कुमार ने कहा कि पटना पहुंचने के बाद मुझे इस बात की जानकारी मिली है. मैंने स्वास्थ्य विभाग से पूरी जानकारी ली है। जल्द ही इस मसले की पूरी तफ्तीश करूंगा स्वास्थ्य विभाग ने मुझे भरोसा दिलाया है की जांच जारी है और कार्रवाई भी की गई है। 

कैबिनेट में दागी मंत्रियों पर टाल दी बात

बिहार सरकार में दागी विधायकों को मंत्री चुने जाने को लेकर सीएम नीतीश ने कहा कि मुझे इसकी कोई जानकारी नहीं है, सब चुनाव जीत कर आए हैं। उन्होंने इस मुद्दे को टालते हुए मीडियाकर्मियों को ही कह दिया कि आपको इस बारे में जानकारी मिले तो हमें बताइए।

दिल्ली दौरे के लेकर बोले नीतीश

दिल्ली दौरे के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बीजेपी राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा समेत कई लोगों से बातचीत हुई है। जिसमें  बिहार के विकास पर चर्चा हुई। हालांकि केंद्र में जदयू की भागीदारी की बात पर किसी बात की चर्चा होने से इनकार किया है। साथ ही राज्यपाल कोटे से एमएलसी मनोनयन पर भी कोई चर्चा नहीं होने की बात कही है।  उन्होंने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से मुलाकात नहीं होने को लेकर निराशा भी जाहिर की है। 

बंगाल चुनाव पर पार्टी की तैयारी

बंगाल चुनाव में जदयू के चुनाव लड़ने को लेकर नीतीश कुमार ने कहा कि पार्टी में इसकी चर्चा हो रही है। राष्ट्रीय अध्यक्ष को इसकी जिम्मेदारी दी गई है। हालांकि दिल्ली में इस विषय पर कोई बात होने की बात से इनकार किया है। 



Find Us on Facebook

Trending News