कोरोना से संक्रमित बिहार के मुख्यमंत्री की मुश्किलें हुई दोगुनी, इस मामले में कोर्ट में उनके खिलाफ परिवाद हुआ दाखिल

कोरोना से संक्रमित बिहार के मुख्यमंत्री की मुश्किलें हुई दोगुनी, इस मामले में कोर्ट में उनके खिलाफ परिवाद हुआ दाखिल

MUZFFARPUR : कोरोना से संक्रमित बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की परेशानी और बढ़ गई है। सोमवार को मुजफ्फरपुर कोर्ट में उनके खिलाफ परिवाद दायर किया गया है। इस परिवाद में सीएम के साथ बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, मुख्य सचिव, प्रधान सचिव (स्वास्थ्य विभाग), तिरहुत प्रमंडल के आयुक्त मिहिर कुमार सिंह, DM प्रणव कुमार, CS डॉ. विनय कुमार शर्मा समेत हॉस्पिटल के डॉक्टर और प्रबंधन का नाम शामिल है। परिवाद पर सुनवाई की तारीख 18 जनवरी मुकर्रर की गई है। 

इस मामले में हुई है शिकायत

सीएम  नीतीश कुमार व अन्य लोगों के खिलाफ यह परिवाद 22 नवंबर को हुए अंखफोड़वा कांड को लेकर किया गया है। उक्त परिवाद आचार्य चंद्र किशोर पाराशर ने दायर कराया है। परिवाद में राज्य सरकार पर वादाखिलाफी की बात कही गई है। बताया गया कि सरकार द्वारा पीड़ितों को मुआवजे का आश्वासन तो मिला पर मुआवजा अब तक नहीं दिया गया। इस कारण आज पीड़ित परिवार धरना प्रदर्शन करने को विवश है। फिर भी कोई सुनने वाला नहीं है। 

65 लोगों का हुआ था ऑपरेशन, कईयों की चली गई थी आंखों की रोशनी

बता दें कि 22 नवंबर को अस्पताल में साफ-सफाई के बिना उचित व्यवस्था किए 65 मरीजों की आंखों का ऑपेरशन किया गया। जो मानक के अनुरूप नहीं था। इस कारण 15 लोगों को अपनी एक आंख गंवानी पड़ी और दो दर्जन लोगों को इन्फेक्शन हो गया था। इसमें हर स्तर पर लापरवाही बरती गई थी।


Find Us on Facebook

Trending News