विदेश तक पहुंचा कोरोनाः रोमांचक मैच से पहले वायरस की धमक, हेड कोच रवि शास्त्री पॉजीटिव, अन्य कोच भी आइशोलेशन में गए

विदेश तक पहुंचा कोरोनाः रोमांचक मैच से पहले वायरस की धमक, हेड कोच रवि शास्त्री पॉजीटिव, अन्य कोच भी आइशोलेशन में गए

N4N DESK: भारत और इंग्लैंड के बीच लंदन के द ओवल में जारी मैच के पहले सनसनीखेज खबर ने सभी को हिला दिया है। दरअसल मैच के तीसरे दिन यानी रविवार को शाम में भारतीय हेड कोच रवि शास्त्री की कोरोना रिपोर्ट पॉजीटिव पाई गई है। उनके संग बॉलिंग कोच भरत अरूण, फील्डिंग कोच आर श्रीधर और फीजियोथेरेपिस्ट नितिन पटेल को भी क्वारंटीन होना पड़ा है। इंग्लैंड के खिलाफ चौथे टेस्ट के चौथे दिन का खेल शुरू होने से ठीक पहले टीम इंडिया को यह बड़ा झटका लगा।

खबरों के मुताबिक शनिवार को बीसीसीआई की मेडिकल टीम ने रवि शास्त्री का लेटरल फ्लो टेस्ट करवाया गया था। जिसके पॉजीटिव आने पर उन्हें और तीन और कोच को आइसोलेट कर दिया गया था। उसके बाद रविवार को शास्त्री का RT-PCR टेस्ट भी किया गया। जिसके बाद वह स्टेडियम नहीं गए। बीसीसीआई के द्वारा इन खबरों की पुष्टि भी की गई है। ऋषभ पंत के कोरोना पॉजीटिव आने के बाद से भारतीय दल के सभी लोगों का रोजाना लेटरल फ्लो टेस्ट किया जा रहा है।


सभी खिलाड़ियों का आया टेस्ट निगेटिव 

रवि शास्त्री के कोरोना पॉजीटिव आने पर सभी खिलाड़ियों का भी RT-PCR का टेस्ट करवाया गया था। जिसकी रिपोर्ट आने पर वह सभी नेगेटिव पाए गए। वहीं बॉलिंग कोच भरत अरूण, फील्डिंग कोच आर श्रीधर और फीजियोथेरेपिस्ट नितिन पटेल को अभी आइशोलेशन में रखा गया है लेकिन उनकी जांच का अबतक रिपोर्ट नहीं आयी है। पूरी टीम रविवार को मैन्चेस्टर के लिए रवाना होने वाली है। ऐसे में अगर इन तिनों की भी RT-PCR टेस्ट पॉजिटीव आएगी तो उन्हें भी कमरे मे 10 दिनों के लिए आइशोलेशन पूरा करना होगा। शाह का कहना है कि ‘उनकी RT-PCR जांच हुई है और नतीजे आने तक वह होटल मे रहेंगे और टीम के साथ ट्रैवल नही करेंगे। उन्होंने यह भी कहा है कि , ‘भारतीय दल के शेष सदस्यों के कल शाम और रविवार सुबह को हुए दोनों जांच का नतीजा निगेटिव रहा है, जिसके बाद उन्हें ओवल में चल रहे चौथे टेस्ट के चौथे दिन के खेल को आगे बढ़ने की अनुमति दी गई है।’

लेटरल फ्लो टेस्ट है सबसे सुरक्षित टेस्ट

लेरल फ्लो जांच एक रैपिड एंटिजेन टेस्ट होता है जिसके नतीजे आमतौर पर सटीक होते हैं। सभी खिलाड़ियों को इसका टेस्ट स्वयं करने के लिए एक किट दी गई है। ऋषभ पंत के कोरोना पॉजीटिव पाए जाने के बाद से ही सभी खिलाड़ियों का लेटरल फ्लो टेस्ट किया जाने लगा। आपको बता दें कि शास्त्री टीम होटल में किताब जारी (लॉन्च) करने के कार्यक्रम में शामिल हुए थे जिसके बाद से उन्हें इस बीमारी के लक्षण दिखने लगा। इस कार्यक्रम में बाहर के मेहमानों को भी आने की अनुमति थी।

Find Us on Facebook

Trending News