मोतिहारी में गाजे बाजे के धुन पर हुई कोरोना वैक्सीनेशन की शुरुआत, भागलपुर में स्वास्थ्यकर्मियों में दिखा उत्साह

मोतिहारी में गाजे बाजे के धुन पर हुई कोरोना वैक्सीनेशन की शुरुआत, भागलपुर में स्वास्थ्यकर्मियों में दिखा उत्साह

MOTIHARI : पूर्वी चंपारण के 11 केंद्रों पर आज से कोरोना वैक्सिनेशन का कार्य शुरू हो गया है. मोतिहारी सफर अस्पताल में शिवहर की सांसद रमा देवी और ढाका के विधायक पवन जयसवाल ने टीकाकरण कार्य का उद्घाटन किया. जिसके बाद सबसे पहले मो आबिद जो सदर अस्पताल के कर्मी है. उन्हें कोरोना का टीका दिया गया. टीकाकरण का निरीक्षण डीएम शीर्षत कपिल अशोक ने किया है. जिले के नौ सरकारी और दो निजी अस्पतालों में टीकाकरण किया जा रहा है. टीका लेने के बाद मो आबिद ने कहा कि टीका से कोई परेशानी नही हो रही है. वही डीएम ने कहा कि पहले 11 सौ स्वास्थ्य कर्मियों को टीका दिया जा रहा है. जिसके 28 दिनों के बाद इन्ही कर्मियो को टीका की दूसरी खुराक दिया जाएगा. टीकाकरण कार्यक्रम के प्रति आम लोगो को जागरूक करने के लिए स्वस्थ्य विभाग की टीम गाजे बाजे के साथ जुलूस निकाल कर लोगो को जागरूक कर रही है. 

उधर भागलपुर में कोरोना का वैक्सीन लेने के लिए चयनित स्वस्थ्य कर्मियों में बेहद ही उत्साह देखा गया. भागलपुर के डीएम सुब्रत कुमार सेन ने सुल्तानगंज रेफरल अस्पताल में वैक्सीनेशन कार्यक्रम का शुभारंभ किया. इसके साथ ही जिले भर में बनाए गए 8 सरकारी अस्पतालों में और 2 निजी अस्पताल में वैक्सीन देने का का काम शुरू हो गया. रेफरल अस्पताल नाथनगर में जीएनएम पिंकी कुमारी ने कोरोना का पहला टीका लिया. वहीं टीका लेने के बाद पिंकी कुमारी ने कहा कि वह बेहद ही सुखद अनुभूति कर रही हैं. उन्होंने कहा कि दुनिया में सबसे सस्ता टीका बनाकर और सबसे बड़ा वैक्सीनेशन कार्यक्रम चलाकर भारत ने दुनिया में अपना लोहा मानने के लिए सभी को मजबूर कर दिया है. 

वहीं दूसरी ओर टीकाकरण के पूर्व अस्पतालों में पीएम मोदी के संबोधन को प्रोजेक्टर के माध्यम से प्रसारित किया गया था. यही नहीं अस्पताल कर्मियों ने पीएम मोदी के संबोधन को सुना भी. लेकिन इस दौरान कई स्वास्थ्य कर्मियों के मुंह से मास्क नदारद था. कोई सामाजिक दूरी भी नहीं देखी गई. जबकि अपने संबोधन में पीएम मोदी एक ओर जहां वैक्सीन को लेकर देश वासियों को बधाई दे रहे थे. वहीँ बार - बार सभी से समाजिक दूरी का पालन करने और मुंह पर मास्क लगाने की अपील कर रहे थे. पीएम ने कहा कि दवाई भी और कड़ाई भी. लेकिन स्वास्थ्य कर्मी इतने उत्साहित थे कि उन्होंने पीएम की अपील को भी नजरअंदाज कर दिया. 

मोतिहारी से हिमांशु और भागलपुर से अंजनी कुमार कश्यप की रिपोर्ट 


Find Us on Facebook

Trending News