देश की सबसे बड़ी जेल पर टूटा कोरोना का कहर, कैदी से कर्मचारी तक सब हो रहे पॉजिटिव

देश की सबसे बड़ी जेल पर टूटा कोरोना का कहर, कैदी से कर्मचारी तक सब हो रहे पॉजिटिव

दिल्ली. कोरोना की जद में क्या आम और क्या खास हर कोई इसकी चपेट में आ रहा है. यहाँ तक कि जेल की चारदीवारियों में बंद कैद भी कोरोना संक्रमण के शिकार हो रहे हैं. देश की सबसे बड़ी जेलों में एक तिहाड़ जेल दिल्ली भी इससे अछूता नहीं है और पिछले तीन चार दिनों के दौरान तिहाड़ जेल में रोजाना कोरोना मरीजों की संख्या बढ़ रही है. 

तिहाड़ जेल में लगातार कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। तिहाड़ जेल प्रशासन से मिली जानकारी के मुताबिक, तिहाड़ की अलग-अलग जेलों में अब तक 66 कैदी कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। तिहाड़ जेल के डीजी संदीप गोयल ने बताया कि तिहाड़ जेल में 10 जनवरी तक कुल 66 कैदी कोरोना संक्रमित हो गए हैं। नौ जनवरी तक यहां 46 कैदी संक्रमित थे यानी एक दिन में यहां 20 कैदियों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं कोरोना की चपेट में आने वाले स्टाफ की संख्या बढक़र 48 पहुंच गई है।


तिहाड़ जेल प्रशासन द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, 10 जनवरी की रात तक तिहाड़ जेल में 42 कैदी संक्रमित पाए गए। नौ जनवरी को यह संख्या 29 थी। यानी तिहाड़ जेल में एक दिन में 13 कैदी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। वहीं मंडोली जेल में अब तक 24 कैदी कोरोना संक्रमित पाए गए, जबकि रोहिणी जेल में अब भी कैदी कोरोना से बचे हुए हैं।  तिहाड़ जेल स्टाफ भी कोरोना की चपेट में आ रहा है।

अब तक तिहाड़ के कुल 48 कैदी संक्रमित पाए जा चुके हैं। बीती सात जनवरी को यह आंकड़ा 28 था। तिहाड़ जेल के डीजी के मुताबिक, तिहाड़ जेल में 34 स्टाफ संक्रमित हुए हैं। वहीं रोहिणी में छह और मंडोली के आठ स्टाफ कोरोना पीडि़त हुए हैं। हालांकि नौ जनवरी को जेल प्रशासन से मिले आंकड़े के अनुसार, रोहिणी में 12 जेल स्टाफ पीडि़त बताए गए थे जो अगले दिन आठ बताए गए जिसके बारे में तिहाड़ जेल के डीजी ने बताया कि यह एक केल्कुलेटिंग मिस्टेक थी।

जेल प्रशासन सूत्रों का कहना है कि पिछले साल जिन कैदियों को जमानत पर छोड़ा गया था,उनमें से काफी कैदी अभी भी वापिस नहीं आए हैं। अगर कोरोना इसी तरह से बढ़ा और जेलों में केस बढ़े तो कैदियों को जमानत देनी मजबूरी बन जाएगी।

Find Us on Facebook

Trending News